Thursday, September 19

सेंसेक्स 277 अंक मजबूत बैंक, वाहन शेयरों में तेजी

मुंबई, (भाषा)। बंबई शेयर बाजार में मंगलवार को तेजी लौटी और बैंक तथा वाहन शेयरों की अगुवाई में सेंसेक्स 277 अंक से अधिक की मजबूती के साथ 36,976.85 अंक पर पहुंच गया। निवेशक यह उम्मीद कर रहे हैं कि रिजर्व बैंक ग्राहकों की धारणा को देखते हुये नीतिगत दर रेपो में और कटौती कर सकता है। इससे बाजार धारणा को बल मिला। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी पांच महीने के न्यूनतम स्तर से ऊपर उठते हुए 86 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। आरबीआई बुधवार को मौद्रिक नीति समीक्षा जारी करेगा। तीस नामी शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 277.01 अंक यानी 0.75 प्रतिशत की तेजी के साथ 36,976.85 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह ऊंचे में 37,241.77 तथा नीचे में 36,536.59 अंक तक गया। पचास शेयरों वाला एनएसई निफ्टी भी 85.65 अंक यानी 0.79 प्रतिशत की तेजी के साथ 10,948.25 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स के जिन शेयरों में अच्छी तेजी रही, उसमें येस बैंक, टेक महिंद्रा, बजाज फाइनेंस, भारती एयरटेल, मारुति, एशियन पेंट्स और हीरो मोटो कार्प शामिल हैं। इसमें 5.30 प्रतिशत तक की तेजी आयी। वहीं दूसरी तरफ पावर ग्रिड, टीसीएस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा मोटर्स, बजाज आटो, वेदांता, इन्फोसिस और आईटीसी में 1.52 प्रतिशत तक की गिरावट आयी।
रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में मौद्रिक नीति समिति ने सोमवार को चालू वित्त वर्ष की तीसरी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा पर विचार विमर्श शुरू कर दिया। ऐसी संभावना है कि केंद्रीय बैंक सुस्ती पड़ती अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये रेपो दर में 0.25 प्रतिशत की कटौती कर सकता है। नीतिगत दर में कटौती के अलावा उद्योग यह भी उम्मीद कर रहा है कि छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति नकदी की स्थिति में सुधार लाने तथा रेपो में कटौती का पूरा लाभ ग्राहकों को मिलना सुनिश्चित करने के लिये कदम उठाएगी। इस बीच, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की उद्योग प्रमुखों के साथ बैठक से पहले धारणा सकारात्मक रही।
यह बैठक इस संभावना के बीच हो रही है कि अर्थव्यवस्था की स्थिति में सुधार के लिये तत्काल कदम उठाये जा सकते हैं। एशिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट सूचकांक, हांगकांग का हैंगसेंग, जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कोस्पी नुकसान में रहे। वहीं यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में सकारात्मक रुख देखने को मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *