Friday, December 6

Business

आईडीबीआई बैंक में 9,300 करोड़ रुपये की पूंजी डालने को मंत्रिमंडल की मंजूरी

Business, Delhi, National
नयी दिल्ली। सरकार ने मंगलवार को आईडीबीआई बैंक में 9,300 करोड़ रुपये की पूंजी डालने की मंजूरी दे दी। इसका मकसद बैंक का पूंजी आधार बढ़ाना और इसे मुनाफे में लाना है। मंत्रिमंडल के निर्णयों के बारे में मीडिया से बातचीत करते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इससे आईडीबीआई बैंक का कायाकल्प करने की प्रक्रिया पूरी होगी। बैंक को वापस लाभ में लाने के साथ ही बैंक सामान्य तौर पर कर्ज वितरण कार्य कर सकेगा। वहीं सरकार को उपयुक्त समय पर अपना निवेश वापस लेने का विकल्प भी इसमें होगा। उन्होंने कहा कि कुल 9,300 करोड़ रुपये की पूंजी जरूरत में भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) अपनी 51 प्रतिशत हिस्सेदारी के अनुरूप 4,743 करोड़ रुपये का निवेश करेगा। शेष 49 प्रतिशत 4,557 करोड़ रुपये की राशि एक बारगी आधार पर सरकार इसमें डालेगी। उल्लेखनीय है कि आईडीबीआई बैंक में एलआईसी ने अपनी हिस्सेदारी जनवरी में
330 ग्रामों में 10,000 फलदार पौधों का निरूशुल्क वितरण

330 ग्रामों में 10,000 फलदार पौधों का निरूशुल्क वितरण

Business
नई दिल्ली। कोडरमा अंचल द्वारा स्वास्थ्य रक्षा हेतु पोषण वाटिका योजना के तहत 11 संचों के 330 ग्रामों में 10,000 फलदार पौधों का निरूशुल्क वितरण किया गया जिसमें मुख्य रूप से आमए अमरुद एवं नींबू के उन्नत किस्म के कलमी पौधें शामिल थे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अन्नपूर्णा देवी सांसद कोडरमा, विशिष्ट अतिथि सूरज कुमार सिंह, प्रमंडल वन पदाधिकारी कोडरमा एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी कोडरमा के कार कमलों द्वारा झुमरी तिलेया, कोडरमा एवं चंदवारा संघ के ग्रामीणों के बीच पौधों का वितरण किया गया एवं बाकी के 8 संचों में दायित्वधारियों एवं आचार्यो को संच ग्रामों में वितरण के लिए पौधे वाहन में रखवा कर गाड़ियों को रवाना किया गया। मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि तथा समाज से आए हुए प्रबुद्ध जनों ने कार्यक्रम की भूरी भूरी प्रशंसा की तथा कहा कि वन बंधु परिषद कोडरमा ने पर्यावरण सुरक्षा एवं पोषण को एक साथ जोड़कर एक साथ

सेंसेक्स 277 अंक मजबूत बैंक, वाहन शेयरों में तेजी

Business
मुंबई, (भाषा)। बंबई शेयर बाजार में मंगलवार को तेजी लौटी और बैंक तथा वाहन शेयरों की अगुवाई में सेंसेक्स 277 अंक से अधिक की मजबूती के साथ 36,976.85 अंक पर पहुंच गया। निवेशक यह उम्मीद कर रहे हैं कि रिजर्व बैंक ग्राहकों की धारणा को देखते हुये नीतिगत दर रेपो में और कटौती कर सकता है। इससे बाजार धारणा को बल मिला। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी पांच महीने के न्यूनतम स्तर से ऊपर उठते हुए 86 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। आरबीआई बुधवार को मौद्रिक नीति समीक्षा जारी करेगा। तीस नामी शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 277.01 अंक यानी 0.75 प्रतिशत की तेजी के साथ 36,976.85 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह ऊंचे में 37,241.77 तथा नीचे में 36,536.59 अंक तक गया। पचास शेयरों वाला एनएसई निफ्टी भी 85.65 अंक यानी 0.79 प्रतिशत की तेजी के साथ 10,948.25 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के जिन शेयरों में अच्छी तेजी रही, उसमें येस

लागत में कटौती के लिए बीएसएनएल ने आउटसोर्स कामकाज की समीक्षा की, आय-व्यय अंतर 800 करोड़ रुपये

Business
नयी दिल्ली, (भाषा)। नकदी संकट से जूझ रही सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लि. (बीएसएनएल) ने दूसरी कंपनियों को दिये गये कामकाज (आउटसोर्स) को तर्कसंगत बनाने के लिए प्रक्रिया शुरू की है। इससे बीएसएनएल को सालाना 200 करोड़ रुपये तक की बचत हो सकती है। इसके अलावा बीएसएनएल बिजली बिलों को भी तर्कसंगत बनाने का प्रयास कर रही है ताकि लागत में 15 प्रतिशत की बचत की जा सके। बीएसएनएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक पी के पुरवार ने पीटीआई- भाषा से कहा कि कंपनी की मासिक आय और व्यय (परिचालन खर्च और वेतन) के बीच का अंतर 800 करोड़ रुपये का है। उन्होंने कहा कि ऐसे में चुनौती कायम है। बीएसएनएल गंभीर नकदी संकट से जूझ रही है और हाल के समय इस साल दूसरी बार कर्मचारियों के वेतन भुगतान में विलंब हुआ है। बीएसएनएल ने सोमवार को कहा था कि उसने कर्मचारियों के जुलाई माह का वेतन जारी कर दिया है। पुरवार ने कहा
कश्मीर घटनाक्रम को लेकर सेंसेक्स 418 अंक टूटा

कश्मीर घटनाक्रम को लेकर सेंसेक्स 418 अंक टूटा

Business
मुंबई, (भाषा)। कमजोर वैश्विक रुख और कश्मीर के ताजा घटनाक्रम को देखते हुये सोमवार को सेंसेक्स 418 अंक टूटकर 36,699.84 अंक पर आ गया। बैंकिंग, वित्तीय और धातु कंपनियों के शेयरों में गिरावट से बाजार नीचे आया। बंबई शेयर बाजार में 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान एक समय 700 अंक तक नीचे चला गया था। हालांकि, बाद में इसने कुछ नुकसान की कुछ भरपाई की और अंत में सेंसेक्स 418.38 अंक या 1.13 प्रतिशत के नुकसान से 36,699.84 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 36,416.79 अंक का निचला और 36,844.05 अंक के ऊंचे स्तर को छुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 134.75 अंक या 1.23 प्रतिशत के नुकसान से 10,862.60 अंक पर बंद हुआ। सरकार ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को समाप्त करने और राज्य को दो संघ शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बांटने के लिए अलग विध
सोना 800 रुपये चढ़कर 37,000 रुपये के करीब पहुंचा, चांदी 1,000 रुपये चढ़ी

सोना 800 रुपये चढ़कर 37,000 रुपये के करीब पहुंचा, चांदी 1,000 रुपये चढ़ी

Business
नयी दिल्ली, (भाषा)। अमेरिका और चीन के बीच व्यापार तनाव बढ़ने के साथ निवेशकों का सोना की खरीदारी में रुझान बढ़ने से पीली धातु का भाव सोमवार को 800 रुपये उछलकर 37,000 रुपये के करीब रिकार्ड 36,970 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। औद्योगिक इकाइयों और सिक्का विनिर्माताओं की मजबूत मांग से चांदी की कीमत भी 1,000 रुपये बढ़कर 43,100 रुपये किलो पर पहुंच गयी। विशेषज्ञों ने कहा कि मई 2013 के बाद सोने का यह सर्वोच्च स्तर है। मूल्यवान धातु के रिकार्ड स्तर पर पहुंचने का कारण अमेरिका-चीन के बीच बढ़ता तनाव और स्थानीय जौहरियों की बढ़ती मांग है। अमेरिका ने पिछले सप्ताह घोषणा की कि वह चीन से आयातित 300 अरब डॉलर मूल्य के सामान पर एक सितंबर से 10 प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क लगाने की घोषणा की। उसने यह भी कहा कि अगर चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग व्यापार समझौते पर तेजी से बढ़ने में विफल रहते हैं तो शुल्क और बढ़ाया जा

विज्ञापन नियामक ने 132 विज्ञापनों के खिलाफ शिकायत को सही पाया

Business
मुंबई, (भाषा)। विज्ञापन नियामक भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (एएससीआई) ने मई में 132 विज्ञापनों के खिलाफ शिकायतों को सही पाया है। इसमें टेटली ग्रीन टी, टैंग और आईफोन एक्सएस समेत कई अन्य कंपनियों के विज्ञापन भ्रामक पाए गए। एएससीआई ने एक बयान में कहा कि मई में उसे 231 विज्ञापनों के खिलाफ शिकायतें मिली। इसमें से 67 को खारिज कर दिया गया। एएससीआई के तहत स्वतंत्र तौर पर काम करने वाली उपभोक्ता शिकायत परिषद (सीसीसी) ने 164 विज्ञापनों का विश्लेषण किया और उनमें से 132 विज्ञापनों के खिलाफ शिकायतों को सही पाया गया। इसमें 69 शिकायतें शिक्षा क्षेत्र, 41 स्वास्थ्य क्षेत्र के बारे में, दो सौंदर्य प्रसाधन, चार खाद्य एवं पेय और 16 अन्य श्रेणियों के विज्ञापनों से जुड़ी हैं। मॉन्डलेज इंडिया के उत्पाद टैंग के विज्ञापन में दावा किया गया है कि बच्चों को आठ गिलास पानी पीना चाहिए जो एक मुश्किल काम है, लेकिन टैंग से य
पोस्तदाना के भाव आसमान पर, मप्र. में 1.10 लाख रुपये क्विंटल बिका

पोस्तदाना के भाव आसमान पर, मप्र. में 1.10 लाख रुपये क्विंटल बिका

Business
नीमच (मध्य प्रदेश), (भाषा)। बंपर आवक के बावजूद मध्य प्रदेश में पोस्तादाना का भाव शनिवार को अचानक आसमान छू गया। जावरा की पोस्तादाना मंडी में पोस्तादाना का भाव शनिवार को रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया और यह 1.10 लाख रुपये प्रति क्विंटल के भाव बिका। वहीं, देश की सबसे बड़ी पोस्तादाना मंडी नीमच में शनिवार को पोस्तादाना का भाव 97,000 रुपये प्रति क्विंटल रहा। पोस्तादाना यानी अफीम का बीज। इसे खसखस भी कहते हैं और कई व्यंजनों में खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। प्रदेश में अफीम की पैदावार करने वाले किसानों एवं कारोबारियों का कहना है कि हमारा पूरा जीवन निकल गया, लेकिन पोस्तदाना कभी इस भाव में नहीं बिका। उनका कहना है कि एक सप्ताह पहले तक इन दोनों मंडियों में पोस्तादाना 55,000 रुपये से 60,000 रुपये प्रति क्विंटल के भाव बिक रहा था। पोस्तादाना के बड़े कारोबारी दीपक अग्रवाल ने बताया,
जीडीपी के मामले में भारत फिसलकर सातवें स्थान पर, ब्रिटेन, फ्रांस आगे निकले

जीडीपी के मामले में भारत फिसलकर सातवें स्थान पर, ब्रिटेन, फ्रांस आगे निकले

Business
नयी दिल्ली, (भाषा)। रुपये के कमजोर होने के कारण भारत की अर्थव्यवस्था 2018 में फिसलकर सातवें स्थान पर आ गयी है। विश्वबैंक की हालिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गयी है। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में रुपये में भारी गिरावट देखने को मिली थी। एक समय ऐसा भी रहा था जब डॉलर के मुकाबले रुपया गिरकर 74 रुपये प्रति डॉलर के स्तर से भी नीचे आ गया था। यह रिपोर्ट ऐसे समय आयी है जबकि चर्चा चल रही है कि 2025 तक भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। आईएचएस मार्किट ने भी अपनी हालिया रिपोर्ट में कहा है कि भारत 2019 में ब्रिटेन को पीछे छोड़कर दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था तथा 2025 तक तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। विश्वबैंक की रिपोर्ट के अनुसार, 2018 में भारत की जीडीपी का आकार 2,726.32 अरब डॉलर रहा। इसकी तुलना में फ्रांस का जीडीपी 2,777.53 अरब डॉलर और ब्रिटेन का 2,825.20 अरब
जेट एयरवेज के लिए रुचि पत्र जमा कराने की समयसीमा की 10 अगस्त

जेट एयरवेज के लिए रुचि पत्र जमा कराने की समयसीमा की 10 अगस्त

Business
मुंबई, (भाषा)। जेट एयरवेज के ऋणदाताओं ने रुचि पत्र जमा करने की समयसीमा को एक सप्ताह के लिए बढ़ाकर 10 अगस्त करने का फैसला किया है। पिछले महीने के आखिर में समाधान पेशेवर आशीष छावछारिया ने एयरलाइन की हिस्सेदारी बेचने के लिए इच्छुक पक्षों से रुचि पत्र आमंत्रित किया था। आज रुचि पत्र जमा करने की आखिरी तारीख थी और अब तक चार इकाइयों से शुरुआती रुचि मिली है। ऋणदाताओं ने शेयर बाजार को जानकारी दी है, 'दिलचस्पी लेने वाले विश्वस्त समाधान आवेदकों द्वारा अतिरिक्त समय मांगे जाने के बाद रुचि पत्र दाखिल करने के लिए समयसीमा को अस्थायी तौर पर एक सप्ताह के लिए बढ़ाकर 10 अगस्त करने का फैसला किया गया है।' उसने कहा कि दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता संहिता (आईबीसी) के लक्ष्यों को हासिल करने और कर्जदार की परिसंपत्तियों के मूल्य को बढ़ाने के लिए समयसीमा का विस्तार किया गया है। ऋणदाताओं ने कहा है, 'रुचि पत्र दाखिल करने