Tuesday, October 15

Maharashtra

सेंसेक्स 282 अंक उछलकर रिकार्ड ऊंचाई पर, निफ्टी 11,000 अंक के पार

Maharashtra
मुंबई, भाषा। बाजार में आज लगातार पांचवें दिन तेजी आयी और ऊर्जा तथा वित्तीय कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 282 अंक उछलकर अब तक के सर्वोच्च स्तर 36,548.41 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 70 अंक मजबूत होकर 11,000 अंक के पार पहुंच गया। पेट्रोलियम, दूरसंचार समेत विभिन्न कारोबार में लगी रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 4.42 प्रतिशत मजबूत होकर अब तक की रिकार्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। इसके साथ ही कंपनी का बाजार पूंजीकरण 100 अरब डालर के दायरे में पहुंच गया है। कारोबारियों के अनुसार रुपये में मजबूती, घरेलू संस्थागत निवेशकों की लिवाली, ताजा विदेशी पूंजी प्रवाह तथा कंपनियों के वित्तीय परिणाम की बेहतर शुरूआत से बाजार धारणा को बल मिला। बंबई शेयर बाजार का तीस शेयरों वाला सूचकांक मजबूती के साथ खुला और कारोबार के दौरान 36,699.53 की रिकार्ड ऊंचाई तक पहुंच गया। हाल
आपातकाल: भाजपा का कांग्रेस पर हमला  बोला चौतरफा हमला

आपातकाल: भाजपा का कांग्रेस पर हमला बोला चौतरफा हमला

Maharashtra
आपातकाल कांग्रेस का पाप, एक परिवार के लिए संविधान का दुरुपयोग किया : मोदी मुंबई, भाषा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आपातकाल को लेकर कांग्रेस और गांधी परिवार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह क्रूर कदम इस पार्टी का एक ‘पाप’ था और एक परिवार के लिए संविधान का दुरूपयोग किया गया। दरअसल, 43 साल पहले 25 जून को देश में आपातकाल लगा दिया गया था। भाजपा के एक कार्यक्रम में यहां मोदी ने कांग्रेस और गांधी परिवार पर प्रहार करते हुए कहा कि आपातकाल लागू करने के दौरान एक परिवार के लिए संविधान का दुरूपयोग किया गया। एक परिवार के स्वार्थी निजी हितों के लिए समूचे देश को जेल में तब्दील कर दिया गया था। मोदी ने कहा कि कांग्रेस की आपातकाल के समय की और अभी की मानसिकता में कोई अंतर नहीं है। उन्होंने विपक्ष के संभवत: इस आरोप के जवाब में यह कहा, जिसके तहत कहा गया था कि उनकी सरकार देश में एक अघोषित आपातकाल लगा रही है।
आईपीएल सट्टा मामले में पुलिस ने अरबाज खान को तलब किया

आईपीएल सट्टा मामले में पुलिस ने अरबाज खान को तलब किया

Maharashtra
ठाणे (महाराष्ट्र), भाषा। बॉलिवुड अभिनेता और फिल्म निर्माता अरबाज खान को पुलिस ने आईपीएल में कथित तौर पर सट्टेबाजी के सिलसिले में बयान दर्ज कराने के लिए कल तलब किया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि अरबाज को आज भेजे गए पत्र में पुलिस ने उनसे एक कथित सटोरिये की गिरफ्तारी के परिप्रेक्ष्य में जांच में शामिल होने के लिए कहा है। सटोरिया हाल में खत्म हुए इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान कथित तौर पर सट्टा लगाता था। अवैध वसूली निरोधक प्रकोष्ठ (एईसी) के प्रमुख वरिष्ठ निरीक्षक प्रदीप शर्मा ने बताया कि कथित सटोरिया सोनू जालान उर्फ सोनू मलाड को हाल में एक जांच के दौरान गिरफ्तार किया गया था जिसमें उसके और अरबाज के बीच ‘‘ संबंधों ’’ का पता चला। अभिनेता को कल एईसी कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया है। एक अन्य पुलिस अधिकारी ने पीटीआई को बताया , ‘‘ हमें संदेह है कि खान ने आईपीएल मैचों में सट्टा लगाया था
सत्ताधारियों ने चुनाव आयोग और लोकतंत्र को अपनी ‘रखैल’ बना रखा है

सत्ताधारियों ने चुनाव आयोग और लोकतंत्र को अपनी ‘रखैल’ बना रखा है

Maharashtra
मुंबई , भाषा। उपचुनावों के दौरान ईवीएम और वीवीपैट मशीनों में आयी खराबी को लेकर निर्वाचन आयोग पर तीखा हमला करते हुए शिवसेना ने कहा कि ‘‘ सत्ताधारियों ने चुनाव आयोग , चुनाव और लोकतंत्र को अपनी रखैल बना रखा है। ’’ गठबंधन सहयोगी भाजपा के खिलाफ तीखे हमले करते हुए शिवसेना ने सत्तारूढ़ पार्टी को ‘‘ तानाशाही प्रवृत्तिवाला ’’ बताते हुए कहा कि उन्होंने अपने फायदे के लिए ईवीएम खराब किये हैं। शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘ सामना ’ के संपादकीय के जरिए चेतावनी दी है कि जिस चुनावी प्रक्रिया से लोगों का विश्वास उठ गया है वह प्रक्रिया लोकतंत्र के लिए घातक है। लेख में लिखा है , ‘‘ हिंदुस्तान दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है , ऐसा डंका पीटने का अब कोई अर्थ नहीं रह गया है। ईवीएम ने हमारे लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा दी हैं। वर्तमान तानाशाही , भीड़तंत्र की प्रवृत्ति वाले सत्ताधारियों ने लोकतंत्र को खुद की रख
विजया बैंक ने रिलायंस नैवल को एनपीए घोषित किया

विजया बैंक ने रिलायंस नैवल को एनपीए घोषित किया

Maharashtra, National
मुंबई, भाषा। सार्वजनिक क्षेत्र के विजया बैंक ने अनिल अंबानी समूह की अगुवाई वाली रिलायंस नैवल एंड इंजीनियरिंग के रिण खाते को मार्च तिमाही से गैर निष्पादित आस्ति ( एनपीए ) घोषित कर दिया है। पहले इस कंपनी का नाम पीपावाव डिफेंस एंड आफशोर इंजीनियरिंग था। अनिल अंबानी ग्रुप ने 2016 में इसका अधिग्रहण किया था और इसे रिलायंस डिफेंस एंड इंजीनियरिंग का नाम दिया था। कंपनी पर आईडीबीआई बैंक की अगुवाई वाले बैंकों के गठजोड़ का 9,000 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज बकाया है। इनमें से ज्यादातर सरकारी बैंक हैं। बेंगलुरु के विजया बैंक ने कहा कि रिजर्व बैंक द्वारा 12 फरवरी को लाए बदलावों के तहत यह कदम जरूरी है। केंद्रीय बैंक जो एनपीए निपटान ढांचा लेकर आया है उसके तहत मौजूदा सभी व्यवस्थाओं को रद्द कर दिया गया है। इसमें ऋण पुनर्गठन भी शामिल है। इसमें बैंकों से कहा गया है कि वे एक दिन की चूक को भी डिफाल्ट मानें। य
मुनाफावसूली से सेंसेक्स 73 अंक टूटा

मुनाफावसूली से सेंसेक्स 73 अंक टूटा

Maharashtra, National
मुंबई , भाषा। बंबई शेयर बाजार में आज तीन दिन से चले आ रहे तेजी के सिलसिले पर ब्रेक लगा और सेंसेक्स 73 अंक टूटकर 35,246.27 अंक पर आ गया। निवेशकों ने हालिया लाभ वाले शेयरों में मुनाफा काटा जिससे बाजार में गिरावट आई। कर्नाटक में शनिवार को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान है। इससे निवेशकों ने सतर्कता बरती। वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल के बढ़ते दामों तथा रुपये की कमजोरी की वजह से भी बाजार धारणा प्रभावित हुई। अमेरिका ने ईरान पर नए सिरे से प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। इससे कच्चे तेल की कीमतों में तेजी जारी रही। ब्रेंट क्रूड वायदा नवंबर , 2014 के बाद अपने सर्वकालिक उच्चस्तर 77.76 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। ब्रोकरों ने कहा कि विदेशी कोषों की सतत निकासी तथा कुछ कंपनियों के निराशाजनक नतीजे से भी बाजार धारणा प्रभावित हुई। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 128 अंक चढ़कर 3
शिवसेना से 25 साल तक जुड़ा रहा, इसलिए मेरे स्वास्थ्य को लेकर वह चिंतित : भुजबल

शिवसेना से 25 साल तक जुड़ा रहा, इसलिए मेरे स्वास्थ्य को लेकर वह चिंतित : भुजबल

Maharashtra, National
मुंबई , भाषा। धन शोधन के एक मामले में जमानत पर रिहा राकांपा के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल ने कहा कि उनके स्वास्थ्य को लेकर शिवसेना थोड़ी चिंतित है क्योंकि वह इस भगवा पार्टी के साथ 25 साल तक जुड़े रहे थे। भुजबल ने कहा कि उनके जेल से बाहर आने के बाद सबसे पहले राकांपा प्रमुख शरद पवार ने उन्हें फोन किया। उन्होंने यह आशा भी जताई कि महाराष्ट्र सदन घोटाला में सच्चाई सामने आएगी। इस मामले में वह एक आरोपी हैं। गौरतलब है कि भुजबल (70) को यहां केईएम अस्पताल से आज छुट्टी दे गई। आर्थर रोड जेल से रिहा होने के बाद करीब एक हफ्ते से वहां उनका इलाज चल रहा था। इसके बाद वह उपनगरीय सांताक्रूज स्थित अपने आवास गए। बाद में उनके बेटे पंकज भुजबल ने एक बयान में कहा कि पूर्व उप मुख्यमंत्री पिछले दो महीनों से अग्नाशय से जुड़ी एक बीमारी से ग्रसित हैं। उन्हें इसके लिए और आगे भी इलाज और सर्जरी कराने की जरूरत होगी। पंकज
छगन भुजबल के पुत्र ने उद्धव ठाकरे से मुलाकात की

छगन भुजबल के पुत्र ने उद्धव ठाकरे से मुलाकात की

Maharashtra, National
मुंबई , भाषा। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ( राकांपा ) के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल के पुत्र पंकज भुजबल ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से यहां उनके आवास पर मुलाकात की। पांच दिन पहले धन शोधन मामले में बंबई उच्च न्यायालय से भुजबल को जमानत मिलने के बाद दोनों नेताओं के बीच यह बैठक हुई। पंकज भुजबल ने आज मुंबई के उपनगर बांद्रा में ठाकरे के निवास स्थान ‘ मातोश्री ’ पर उनसे मुलाकात की। शिवसेना के एक विधायक ने पीटीआई - भाषा को बताया , ‘‘ पंकज भुजबल से यह महज 15 मिनट की शिष्टाचार भेंट थी। बैठक के दौरान कोई राजनीतिक चर्चा नहीं हुई। ’’ नेता ने एक घटना को याद करते हुए कहा कि वर्ष 1991 में शिवसेना छोड़ने के बावजूद छगन भुजबल ने वर्ष 2007 में दिवंगत पार्टी सुप्रीमो बाल ठाकरे से मुलाकात की थी। यह पूछे जाने पर कि क्या जमानत मिलने के बाद छगन भुजबल के अपनी राजनीतिक विचारधारा
लिखित शिकायत ना होने पर भी  शुरू की जा सकती है जांच: हाई कोर्ट

लिखित शिकायत ना होने पर भी शुरू की जा सकती है जांच: हाई कोर्ट

Maharashtra, National
मुंबई, भाषा। बंबई उच्च न्यायालय ने कहा कि लिखित शिकायत एवं शपथपत्र ना होने की स्थिति में आरोपों को साबित करने के लिए सत्यापन योग्य सामग्री होने पर किसी न्यायिक अधिकारी के खिलाफ विभागीय जांच शुरू की जा सकती है। न्यायमूर्ति आर एम सावंत एवं न्यायमूर्ति एस वी कोटवाल की एक खंडपीठ ने गत चार मई को दीवानी अदालत के न्यायाधीश (जूनियर डिवीजन) आसिफ तहसीलदार द्वारा दायर याचिका खारिज कर दी। न्यायाधीश ने याचिका में उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार द्वारा 15 जुलाई, 2017 को दो अलग अलग आरोपों को लेकर उनके खिलाफ विभागीय जांच शुरू करने के आदेश को चुनौती दी थी। पहला आरोप तहसीलदार के जालना जिले में दीवानी न्यायाधीश रहते हुए खुद को गलत तरीके से लाभ और राज्य के सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाने के लिए कथित रूप से आधिकारिक पद का इस्तेमाल करने का था। दूसरी जांच तहसीलदार के कोल्हापुर में न्यायाधीश के तौर पर काम करते हुए

‘सांसद रहते कास्टिंग काउच पर क्यों नहीं बोलीं रेणुका’

Maharashtra, National
मुंबई , भाषा। कास्टिंग काउच पर की गई टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने कहा कि उन्होंने यह मुद्दा तब क्यों नहीं उठाया जब वह सांसद थीं। रेणुका ने कहा था कि कास्टिंग काउच संस्कृति से संसद भी अछूती नहीं है। उन्होंने कहा था कि यह सिर्फ फिल्म उद्योग से जुड़ा ‘ कड़वा सच ’ नहीं है बल्कि सभी कार्य क्षेत्रों में ऐसा होता है। शिवसेना ने कहा कि उनकी टिप्पणी भले ही “ गैर जिम्मेदाराना ” और “ देश की महिलाओं का अपमान ” करने वाली हो लेकिन मोदी सरकार को इन आरोपों को गंभीरता से लेना चाहिए। पार्टी ने अपने मुखपत्र ‘ सामना ’ के एक संपादकीय में कहा , “ रेणुका का बयान गैर जिम्मेदाराना और देश की सभी महिलाओं का अपमान करने वाला था .. वह खुद भी एक सांसद और एक केंद्रीय मंत्री रही हैं। जब राज्यसभा की उनकी सदस्यता खत्म होने को आई तब उन्हें कास्टिंग काउच याद आ गया। ” संपादकी