Wednesday, April 1

Orrisa

बिजली के तार के संपर्क में आने से बस में आग लगी: नौ यात्रियों की मौत, 22 अन्य घायल

बिजली के तार के संपर्क में आने से बस में आग लगी: नौ यात्रियों की मौत, 22 अन्य घायल

Orrisa
ब्रह्मपुर (ओडिशा), भाषा। ओडिशा में गंजाम जिले के गोलंतारा इलाके में रविवार को बिजली के तार के संपर्क में आने से एक बस में आग लग गई। इस दुर्घटना में नौ यात्रियों की मौत हो गई और 22 अन्य जख्मी हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने घटना पर शोक व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्रियों ने हादसे में घायल लोगों को मुफ्त में चिकित्सा सुविधाएं देने की घोषणा की है। अधिकारी ने बताया कि घायलों को एमकेसीजी चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल में भर्ती किया गया है जबकि पांच घायलों को कटक स्थित एससीबी चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल भेजा गया है। पुलिस ने बताया कि हादसा मनदाराजपुर में उस समय हुआ जब बस जंगलपाडु से चिकरादा जा रही थी और उसमें करीब 40 यात्री सवार थे।
गहीरमाथा समुद्री अभयारण्य में 22 मछुआरे गिरफ्तार

गहीरमाथा समुद्री अभयारण्य में 22 मछुआरे गिरफ्तार

Orrisa
केंद्रपाड़ा (ओडिशा), (भाषा)। गहीरमाथा समुद्री अभयारण्य में अवैध रूप से मछली पकड़ने के आरोप में 22 मछुआरों को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि ये मछुआरे केंद्रपाड़ा जिले के महाकालपाड़ा में बातीघर एवं रामनगर के रहने वाले थे। इन सभी को सोमवार को गिरफ्तार किया गया। अधिकारियों ने बताया कि घुसपैठिये मछुआरों की मछली पकड़ने की जालियां हुकीटोला तट के पास जब्त की गयीं। ये मछुआरे वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 और उड़ीसा समुद्री मत्स्य नियम अधिनयम (ओएमएफआरए), 1982 के प्रावधानों का उल्लंघन कर अभयारण्य के गलियारे में पहुंच गये थे। राजनगर मैंग्रोव (वन्यजीव) वन संभाग अधिकारियों के संभागीय वन अधिकारी ने कहा कि समुद्री अभयारण्य में मानवीय गतिविधियों पर भी प्रतिबंध लगा है। सरकार ने गहीरमाथा वन अभयारण्य को 1997 में समुद्री कछुओं के लिये संरक्षित क्षेत्र घोषित किया था। सर्दियों के मौसम में इस क्षेत