Tuesday, October 15

UttarPradesh

यह रहेगी यातायात व्यवस्था

Uncategorized, UttarPradesh
दशहरा पर्व पर रामलीला मैदान में आयोजित होने वाले मेला और रावण दहन को देखते हुए यातायात व्यवस्था को बदला गया है। कई मार्गों पर भारी वाहनों का आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा तो कुछ मार्गों पर भारी वाहनों को बदले हुए रूट से निकाला जाएगा। रामलीनला मैदान को जाने वाले लोगों के हल्के वाहनों को भी रामलीला मैदान से पहले ही पार्क कराया जाएगा। वृंदावन मथुरा मार्ग पर सौ सैया तिराहे से भारी वाहनों का आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। इसी तरह गोकुल रैस्टोरेंट से मसानी की तरफ, भूतेश्वर से मसानी की तरफ, गणेशरा कट से पोतरा कुंड की तरफ जाने वाले सभी भारी वाहन प्रतिबंधित रहेंगे। सभी प्रकार के हल्के वाहन जो रामलीला मैदान में आएंगे उन्हें कल्याण करोति की पार्किंग और आरएसएस की पार्किंग से आगे जाने से रोक दिया जाएगा। ये वाहन यहीं पार्क किये जाएंगे। गणेशरा की ओर से आगे वाले हल्के वाहन पोतरा कुण्ड की पार्

शारदीय नवरात्रि आज, रौशनी से जगमगाया वासुदेव तीर्थ स्थल

UttarPradesh
नेशनल एक्सप्रेस संवाददाता अमरोहा। शारदीय नवरात्रि का नौ दिवसीय पावन पर्व 29 सितंबर रविवार(आज) से शुरू है। नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के सभी नौ रूपों की पूजा की जाती है। शारदीय नवरात्रि को मुख्‍य नवरात्रि माना जाता है। हिन्‍दू कैलेंडर के अनुसार यह नवरात्रि शरद ऋतु में अश्विन शुक्‍ल पक्ष से शुरू होती हैं और पूरे नौ दिनों तक चलती हैं। मां दुर्गा इस बार सर्वार्थसिद्धि और अमृत सिद्धि योग में हाथी पर सवार होकर रविवार(आज) हमारे घर पधारेंगी। फिर 9 दिन बाद घोड़े पर विदा होंगी। घट स्थापना प्रतिपदा तिथि रविवार को सर्वार्थसिद्धि व अमृत सिद्धि योग में होगी। हिन्दू धर्म के विद्वानों ने बताया कि 29 सितंबर, 2 अक्टूबर और 7 अक्टूबर के दिन दो-दो योग रहेंगे। इन योगों में नवरात्र पूजा काफी शुभ रहेगी।अन्य त्यौहारों की तरह नवरात्रि में भी अपनों को शुभ कामना संदेश, बधाई संदेश भेजना व हैप्पी नवरात्रि बोलने का प

पितृ विसर्जन अमावस्या पर गंगास्नान को उमड़ा सैलाब

UttarPradesh
गजरौला। शनिवार को बृजघाट और तिगरीधाम में पितृ विसर्जन अमावस्या पर गंगास्नान के लिए श्रद्धालुओं सैलाब उमड़ा। गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालुओं से घाट खचाखच भरे हुए थे। श्रद्धालुओं ने गंगास्नान कर पितरों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की तथा जरूरतमंदों को दान देकर पुण्य लाभ कमाया। बृजघाट व तिगरीधाम में गंगास्नान के लिए शुक्रवार की रात से ही श्रद्धालु पहुंचना शुरू हो गए थे। शनिवार सुबह तड़के से ही श्रद्धालुओं ने गंगास्नान शुरू कर दिया। सबसे ज्यादा भीड़ तिगरीधाम में देखी गई। गंगाघाट श्रद्धालुओं से खचाखच भरे हुए थे। पैर रखना तक मुश्किल हो रहा था। जैसे-जैसे दिन निकलता गया श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ती गई। श्रद्धालुओं ने हर-हर गंगे के जयकारों के साथ गंगा में डुबकी लगाई। दीपक जलाया तथा प्रसाद चढ़ाया। ऐसा ही नजारा बृजघाट में भी देखने को मिला। गंगास्नान के बाद श्रद्धालुओं ने मंदिरों में पूजा अर्च

आयुष्मान, आवास, उज्ज्वला की कछुआ गति सौभाग्य योजना दौड़ी खरगोश की चाल

UttarPradesh
सरकारी लोकहित की योजनाओं का अखिरी पंक्ति के अखिरी व्यक्ति तक पहुंचना हुआ नामुमकिन नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मथुरा। आयुष्मान, प्रधानमंत्री आवास, उज्ज्वला योजनाएं कछुआ गति से चल रही हैं जबकि सौभाग्य योजना खरगोश की गति से दौड़ लगाती हुई हर घर यहां तक कि बिना घर की दीवार तक जा पहुंची। महात्मा गांधी ने कहा था जब भी आप कोई फैसला लें तो पंक्ति में खड़े आखिरी व्यक्ति के बारे में एक बार जरूर सोच लें। शायद हमारे हुक्मरानों के राष्ट्रपिता की ये लाइनें प्रासंगिकता खो चुकी हैं। यही वजह है कि तमाम सरकारी योजनाएं उस व्यक्ति तक नहीं पहंुच रही हैं जिन्हें इनकी सबसे ज्यादा आवश्यकता है। आखिरी पंक्ति में आखिरी व्यक्ति को ध्यान में रख कर सरकार अगर योजना बना भी रही है तो उसी आखिरी व्यक्ति तक इन योजनाओं की पहुंच सुनिश्चित नहीं हो पा रही है। ताजुब्ब तब होता है जब सरकारी की आयुष्मान, प्रधानमंत्री आवास, सौभाग्य जै
शताब्दी एक्सप्रेस में बम की सूचना से हड़कंप

शताब्दी एक्सप्रेस में बम की सूचना से हड़कंप

UttarPradesh
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मथुरा। शताब्दी एक्सप्रेस में बम की सूचना से हड़कंप मच गया ,मथुरा स्टेशन पर ट्रेन को रोककर करीब 20 मिनट तक चेकिंग की गई ,चेकिंग के दौरान बी डी एस , आरपीएफ जीआरपी और डॉग स्क्वायड की टीम मौजूद रही। कंट्रोल रूम से मिली सूचना के आधार पर ट्रेन की चेकिंग की गई ,लेकिन ट्रेन में कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली ,जिसके बाद ट्रेन को आगे के लिए रवाना कर दिया.. नई दिल्ली से भोपाल जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस में बम की सूचना मिलने से हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि दिल्ली कंट्रोल रूम से मथुरा कंट्रोल रूम को सूचना मिली थी कि नई दिल्ली से भोपाल जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस में बम होने की सूचना मिली है। कंट्रोल रूम को यह भी बताया गया कि 2 संदिग्ध व्यक्ति आपस में कोइ संदिग्ध वस्तु ट्रेन में रखने की बात कर रहे थे। जिसके बाद दिल्ली कंट्रोल रूम को सूचना मिली और उसने आनन-फानन में मथुरा कंट्रोल
संचारी रोग नियंत्रण अभियान को संचालित करने के लिए अंतर्विभागीय समीक्षा बैठक

संचारी रोग नियंत्रण अभियान को संचालित करने के लिए अंतर्विभागीय समीक्षा बैठक

UttarPradesh
बिजनौर। मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रवीण कुमार मिश्र कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित राष्ट्रीय वैक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत तृतीय संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सफलतापूर्वक संचालित करने के उद्देश्य से चतुर्थ अंतर्विभागीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य, शिक्षा, पंचायती राज, महिला एवं बाल विकास, नगर निकाय सहित अन्य संबंधित विभागों को शामिल किया गया है, जो आपस में सामंजस्य स्थापित कर एक टीम के रूप में कार्य कर इस अभियान को शत प्रतिशत रूप से सफल बनाने का प्रयास कर रहे है जिससे जिले से संचारी रोगों जैसे मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया आदि रोगों पर प्रभावी नियंत्रण स्थापित हो सके। मुख्य विकास अधिकारी मिश्र द्वारा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियांे को निर्देश दिए गये कि वह समस्त ए.एन.एम एवं आशाओं को अपने स्तर से निर्देशित करें कि वे
लता मंगेशकर के गाये गीत गाकर मनाया जन्म दिन

लता मंगेशकर के गाये गीत गाकर मनाया जन्म दिन

UttarPradesh
नहटौर। नगर के संगीत प्रेमियों ने भारतीय कोकिला एंव स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर का जन्म दिन धूमधाम से मनाया एंव उनके गाये गीतों की प्रस्तुति के साथ उनकी दिर्धायु की कामना की गई। जगदीश चन्द्रा के आवास पर आयोजित उक्त कार्यक्रम में सलीम सिद्दीकी ने कहा कि गीत गायन कला में लता मंगेशकर का अभूतपूर्व योगदान है रहती दुनिया तक उनके गाये गीत लोगों को आनंदित करते रहेंगे। अथर हसन ने लता मंगेशकर का जीवन परिचय कराते हुए कहा कि मंगेशकर घराने की गायन परंपरा को लता मंगेशकर ने नई ऊंचाईयां प्रदान की। नूर जहां की शिष्या लता मंगेशकर दीदी ने जिस जमाने में फिल्मी गीतों के गायन का सफर प्रारम्भ किया उस जमाने में नूर जहां, शमशाद बैगम, सुरेया की कड़कड़ाती आवाजों का जादू भारतीय जामानस के सिर चढ़कर बोल रहा था उस दौर में लता मंगेशकर को काफी संघर्ष करना पड़ा मगर आहिस्ता आहिस्ता लता की आवाज का महत्व बढ़ने लगा बैजूबावरा के गीत
विद्यार्थियों को अपना बेटा-बेटी समझ कर शिक्षा ग्रहण करायें:  रमाकांत पांडे

विद्यार्थियों को अपना बेटा-बेटी समझ कर शिक्षा ग्रहण करायें: रमाकांत पांडे

UttarPradesh
बिजनौर।   70 वें जनपदीय क्रीड़ा एवं शैक्षिक समारोह  आयोजन का शुभारंभ जिलाधिकारी रमाकांत पांडे ने ध्वजारोहण व गुब्बारे कबूतर उड़ा कर नेहरू स्टेडियम में किया। नेहरू स्टेडियम में कार्यक्रम का शुभारंभ के अवसर पर मुख्य अतिथि जिलाधिकारी  रमाकांत पांडे  व  मुख्य विकास अधिकारी  प्रवीण मिश्र को कार्यक्रम के अध्यक्ष जिला विद्यालय निरीक्षक आर.के सिंह उपाध्यक्ष जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी महेश चंद ने मुख्यअतिथि को बुके भेंट कर व एनसीसी कैडेट द्वारा मार्च पास्ट कर स्वागत किया। इस मौके पर केपीएस स्कूल की छात्राओं ने सरस्वती वंदना गीत गाकर व समस्त स्कूली छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। क्षेत्रों को आवंटित रंग मार्चपास्ट एवं पीटी का प्रदर्शन किया। मार्चपास्ट में जीजीआइसी, केपीएस, आरजेपी ,जीआइसी आदि व एनसीसी कैडेट्स ने भाग लिया। कार्यक्रम में शपथ,मशाल दौड़/800 मीटर, 200 मीटर की दौड़ प्रतियोग
जानलेवा अस्पताल लापरवाह सिस्टम

जानलेवा अस्पताल लापरवाह सिस्टम

UttarPradesh
‘मुमकिन’ नहीं आईएमए जैसे मजबूत संगठनों के आगे टिकना नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मथुरा। किसी भी सरकारी महकमे में किसी कर्मचारी के फंसते ही यूनियन सक्रिय हो जाती हंै। हड़ताल, धरना प्रदर्शन होते हैं और मामले को रफादफा कर दिया जाता है। प्राइवेट सैक्टर की संगठित इकाईयों की यूनियन भी इतनी मजबूत हैं कि उनसे लड़ना आम आदमी क्या, खास आमदमी के लिए भी मुमकिन नहीं रह गया है। चिकित्सकों की संस्था आईएमए भी उतनी ही ताकतवर है। जानलेवा अस्पताल, लापरवाह सिस्टम, कदम-कदम पर मानकों का उल्लंघन, अप्रशिक्षित स्टाफ इसके बाद भी किसी की हिमाकत नहीं कि वह इस सिस्टम पर उंगली उठा सके।
संस्कृति विवि में फ्रेशर पार्टी में नाच, गानों से मचा धमाल

संस्कृति विवि में फ्रेशर पार्टी में नाच, गानों से मचा धमाल

UttarPradesh
मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय में प्रवेश से प्रफुल्लित छात्र-छात्राओं का जोश-जुनून फ्रेशर पार्टी में जमकर फूटा। विश्वविद्यालय के सीनियर्स ने फ्रेशर्स के स्वागत के लिए कड़ी मेहनत कर पार्टी की रूपरेखा तैयार की थी। नवीन और पुरातन छात्र-छात्राओं के मध्य होने वाले इस अनूठे संगम में गायन, नृत्य और आत्मविश्वास के प्रदर्शन की ऐसी सरिता बही, जिसने विश्वविद्यालय के समूचे प्रांगण को अपने आगोश में भर लिया। विश्वविद्यालय के पदाधिकारी, फैकल्टी ने छात्र-छात्राओं के इस खुशनुमा कार्यक्रम में अपनी मौजुदगी दर्ज कर आनंद को दूना कर दिया। देर रात तक विश्वविद्यालय के छात्र-छात्रा ड्रम और गिटार की धुनों पर नाच-नाचकर अपने ऊपर हावी पढ़ाई के भार को हल्का करते रहे। फ्रेशर पार्टी का आयोजन शाम पांच बजे से तय था। चार बजे से आकाश में घिरे काले-काले बादल छात्र-छात्राओं की आयोजन समिति का दिल दहलाते रहे। यकायक हुई तेज बारि