Home UttarPradesh अपनी सुरक्षा अपने हाथ, रेलवे रोड सुरक्षा संगठन गठित: अमित त्यागी.

अपनी सुरक्षा अपने हाथ, रेलवे रोड सुरक्षा संगठन गठित: अमित त्यागी.

0

नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मुरादनगर। व्यापारियों ने अपनी सुरक्षा के लिए खुद एक संस्था का गठन किया है व्यापारियों की आवाज को अनदेखा किया जाने पर संगठन अपने कर्तव्य का निर्वहन करेगा व्यापारी सुरक्षा संगठन के पदाधिकारियों ने नये पदों को सृजित करते हुये सर्वसम्मति से अमित त्यागी को संगठन का निर्विरोध अध्यक्ष चुना, संगठन के लोगों ने एक दूसरे को मिठाई ख़िलाकर ख़ुशी ज़ाहिर की। संगठन के मुख़्य कार्यायल रेलवे रोड़ पर व्यापारी सुरक्षा संगठन द्वारा मासिक बैठक का आयोजन किया गया।

पहले क्रम में संगठन के कोषाध्यक्ष पवन गुप्ता ने पारदर्शिता दिखाते हुये मासिक लेखा-जोखा संगठन के सामने प्रस्तुत किया, बैठक में निर्णय लिया गया की रेलवे रोड़ के दोनों तरफ़ पीली पट्टी व खम्बों को भी सौन्दर्यीकरण के लिये पेंट कराया जायेगा, संगठन के संरक्षकों ने विशेष कारणों की वजह से पूर्व में बनाये गये संगठन अध्यक्ष को लगातार अनुपस्थित रहने के कारण हटाकर नये अध्यक्ष को सर्वसम्मति से चयनित किया गया । अमित त्यागी को निर्विरोध संगठन अध्यक्ष चुना गया है, आचार्य पंडित उमेश शर्मा को सचिव बनाया गया,रजनीश शर्मा को सह सचिव, विपिन त्यागी को उपाध्यक्ष, अखिल शर्मा उर्फ़ आशु को भी उपाध्यक्ष के पद पर मनोनीत किया गया। उधऱ प्रचार मंत्री के रुप मे राजीव वत्स चुने गये है, रविन्द्र पाल को मीडिया प्रभारी नियुक्त किया गया। संरक्षक डॉक्टर राजपाल तोमर, संरक्षक विक्रम चौधरी ने तीन नये सदस्यों को भी संगठन में शामिल किया है उनके नाम इस प्रकार है-सदस्य विनोद धनगर, सदस्य टीटी बक्शी उर्फ़ तरनतारण, सदस्य नरेश कुमार आदि को सम्मानित करते हुये संगठन में रखा गया है।  संगठन के सभी सदस्यों ने संगठन के कार्यो में अधिक उत्साह दिखाते हुये अपनी जिम्मेदारियों को निभाने का बैठक में पूर्ण संकल्प लिया। गौरतलब है संगठन के नये अध्यक्ष अमित त्यागी ने कार्यभार संभालने के उपरांत कहा कि संरक्षक डॉक्टर राजपाल संरक्षक विक्रम चौधरी सचिव आचार्य पंडित उमेश शर्मा व सभी सदस्यों एवम पदाधिकारियों का मै दिल से सदैव आभारी रहूंगा जिन्होंने हमारा हौसला अफ़जाई करते हुये हमें संगठन के अति महत्वपूर्ण पद के योग्य समझा मै हमेशा संगठन को अपने मूल लक्ष्य व ऊंचाईयों की ओर ले जाने का पूर्ण प्रयास करता रहूंगा, अध्यक्ष ने संगठन को एक नया स्लोगन भी दिया उन्होंने कहा-एक क़दम सुरक्षा की ओर, आओ मिलकर क़दम बढ़ाये इसी स्लोगन के साथ संगठन के सदस्यों में ऊर्जा भर गई और सभी ने एक साथ क़दम मिलाकर चलने का संकल्प लिया। संगठन की बैठक में शामिल रहें, संगठन संरक्षक डॉक्टर राजपाल तोमर संरक्षक श्री विक्रम चौधरी ,आचार्य पंडित उमेश शर्मा , अमित त्यागी, पवन गुप्ता, अखिल शर्मा उर्फ़ आशु, रजनीश शर्मा , राजीव शर्मा, पूर्व पार्षद विनोद धनगर, कांति प्रसाद , विपिन त्यागी, अंकित गुप्ता, कुलदीप दत्त, कांति प्रसाद, नरेश कुमार, रविन्द्र पाल, दिनेश कुमार उर्फ़ डीके, टीटी बक्शी उर्फ तरनतारण आदि उपस्थित रहे।

नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मुरादनगर। कहते हैं जिसके पीछे पुलिस लग जाती है उसे पाताल से भी खोज लाती है क्षेत्र में कौन क्या कर रहा है क्या-क्या हो रहा है इसका हिसाब किताब पुलिस के पास रहता है ऐसे में क्षेत्र में हो रहे अवैध कार्यों का पुलिस को पता न हो यह नहीं हो सकता लोगों के परिवार बर्बाद हो गए घरों से सड़क पर आ गए बच्चे भी एक के नो मिलने के चक्कर में लगकर अपना भविष्य खराब कर रहे हैं यह सब कुछ करा रहा है सट्टा थाना क्षेत्र में सट्टे की खाई बाड़ी धूमधाम के साथ चल रही है ज्यादा जीतने के चक्कर में बहुत से लोग अपने जीवन की पूंजी इस सट्टे पर लुटा घर बार भेज सड़कों पर आ गए लेकिन लोगों की बर्बादी का कारण सट्टा फिर भी क्षेत्र में चल रहा है सट्टे में सब कुछ हार चुके लोगों के पास अब देने के लिए कुछ नहीं है सटोरिए युवा पीढ़ी को निशाना बना रहे हैं हालात यह है कि पूरे दिन की बेलदारी मजदूरी कर 400 रुपए कमा कर लाता है वह शाम को सब रुपए इस लालच में सटोरिए को दे आता है कि शायद उसकी किस्मत में लिखी गरीबी दूर हो जाए लेकिन पूरे क्षेत्र में एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जो सट्टे से आबाद हुआ हो हां सट्टे के कारण दयनीय स्थिति में पहुंचे बहुत से लोग शहर में मौजूद हैं इस भयानक स्थिति को पुलिस काबू नहीं कर पा रही या फिर सब गोलमाल है मामला गंभीर है क्योंकि सट्टे की भट्टी में वह नवयुवक लग रहे हैं जो दिहाड़ी मजदूर का कार्य कर जीवन यापन करते हैं लोगों के जीवन को नर्क बना देने वाले ऐसे धंधों पर अंकुश की आवश्यकता है यदि स्थानीय पुलिस को इस बारे में जानकारी नहीं है यह बहुत बड़ी बात है क्योंकि इतना बड़ा अवैध धंधा हो रहा है और पुलिस को पता नहीं पुलिस को पता है तो कार्रवाई क्यों नहीं हो गई इस बारे में नगर में कई स्थानों पर जानकारी एकत्र की पता चला कि सट्टे का कार्य अभी भी बेरोकटोक जारी है लेकिन एक गुड वर्क दर्ज कराने के लिए पुलिस उन लोगों को गिरफ्तार करने में विश्वास रखती है जो ताश के पत्तों से ताश खेलते हो पुलिस ने रात्रि में ताश के साथ जुआ खेलने के आरोप में आधा दर्जन से अधिक लोगों को उठाया थाने लाया गया कुछ की बोली लगी बिक गया बाकी के बारे में पुलिस अभी तक जवाब नहीं दे रही है की आखिर उन लोगों की गिरफ्तारी किस धारा के तहत की गई है पुलिस अब ऐसा रास्ता निकालने की जुगत में है की जुआरियों से मिले हुए रुपए किस तरह से पचाए जाएं जुआ खेलते हुए गिरफ्तार दिखाया जाता है तो उनके पास मौजूद धनराशि भी बरामद होती है वह लिखा पढ़ी में उसकी लिखा पढ़ी की जाती है अब देखना यह है कि पुलिस उन्हें जुआरी बता कर जेल भेजती है कि या फिर उनसे मिली रकम को हजम करने के लिए कोई हथकंडा बनाती है कुल मिलाकर क्षेत्र में अनेक ऐसी गतिविधियां जारी हैं जो नहीं होनी चाहिए और पुलिस की निगाह में जानकारी हो।

 

नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मोदीनगर। गिन्नी देवी मोदी कन्या स्नाकोत्तर महाविद्यालय मोदीनगर के द्वारा एक राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया। जिसका विषय ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 की चुनौती और संभावनाएं’ रहा। जिसमें भारत के प्रख्यात शिक्षाविदों एवं पेशेवर विभिन्न यूनिवर्सिटी के कुलपति, सोधकर्ताओ ने भाग लिया।वेबीनार का शुभारंभ प्राचार्या प्रोफेसर मीनू अग्रवाल ने किया तथा संचालन डॉ. सुमन लता द्वारा किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में प्रोफेसर अभय कुमार, प्रताब महाविद्यालय के डिप्टी चांसलर, गेस्ट ऑफ ऑनर प्रोफेसर राजीव गुप्ता क्षेत्रीय शिक्षा अधिकारी सहारनपुर ओर मेरठ मंडल प्रमुख वक्त के रूप में डॉ. उमेश प्रताप सिंह, मिशनरी कॉलेज, इलाहाबाद उपस्थित रहे। मुख्य अतिथि ने शिक्षा नीति को भविष्य की नीति बताया ओर कहा ग्रामीण शिक्षा को बढ़ावा देना चाहिए गांव में शिक्षा के ने आयाम स्थापित करने होंगे। उन्हें भी ऑनलाइन की तरफ बढावा देना होगा ओर मातृभाषा को मजबूत मजबूत करना होगा। जिससे बच्चे के दिमाग का चहुंमुखी विकास होगा। प्रमुख वक्ता ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति भारत का निर्माण तकनीकी एवं विचारणीय विकास का एक पहलू है इससे युवा शक्ति अपने आप उभर कर आयगी और छात्र को एक मशीन नहीं बनना है बल्कि उसे मशीनें बनानी है।  एक उज्जवल भविष्य के प्रति अपनी प्रतिबद्धता साबित करनी है। उन्होंने यह भी कहा कि शिक्षा का उद्देश बच्चे का मानसिक, शारीरिक, ओर सामाजिक विकास करने के साथ साथ बहुआयामी व्यक्तित्व को निखारने भी है जिसमें शिक्षा नीति 2020 कारगर साबित होगी। वेबीनार को सफल बनाने में महाविद्यालय की प्राचार्य मीनू अग्रवाल समेत 155 शिक्षक व छात्रों का प्रदर्शन बहुत ही उम्दा रहा।

 

नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मोदीनगर। विधायक डॉ मंजू शिवाच ने मोदीनगर विधानसभा क्षेत्र के गोविंदपुरी में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में विश्व अल्जाइमर्स दिवस एवं डिमेंशिया जागरूकता सप्ताह के अवसर पर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य इकाई गाजियाबाद द्वारा आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित होकर विधायक ने अवगत कराया कि कोरोना काल में व्यक्ति या तो निर्भय हो गया है या फिर कोरोना को लेकर उसके अंदर भय है जिसके कारण वह मानसिक तनाव से जूझ रहा है।मानसिक बीमारियां आम बीमारियों जैसी ही है जिसके लिए हमें शर्म महसूस नहीं करनी चाहिए और डॉक्टर से उचित सलाह लेनी चाहिए जिससे हम इन मानसिक बीमारियों को खत्म कर सकें। यह कैंप प्रतिमाह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगाया जाएगा तथा मानसिक बीमारी से जूझ रहे सभी लोगों को इस कैंप का अधिक से अधिक लाभ लें। इस अवसर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोविंदपुरी के चिकित्सा अधिकारी डॉ कैलाश एवं डॉक्टर अंशु चौधरी ,डॉक्टर साकेत तथा समस्त स्टाफ मौजूद रहे।

 

 

मोदीनगर। युवा ब्राह्मण समाज के द्वारा अपने संगठन का विस्तार करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष अश्वनी कोशिक द्वारा गाजियाबाद का जिला अध्यक्ष एडवोकेट संजीव कौशिक को मनोनीत किया है। उनके अनुमोदन पर दीपक शर्मा को नगर अध्यक्ष मोदीनगर और राजेंद्र कौशिक को जिला उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया । जिला अध्यक्ष संजीव कौशिक एडवोकेट ने कहा कि ब्राह्मण समाज को एकत्रित कर एक बैनर के नीचे लाने का कार्य करेंगे और किसी भी समस्या का निवारण करने के लिए तत्पर रहेंगे। सदैव अपने समाज के हितों के लिए कार्य करते हुए इसके लिए जो भी कीमत चुकानी पड़ेगी उसके लिए तैयार रहेंगे। अधिक से अधिक संख्या में ब्राह्मणों को युवा ब्राह्मण समाज से जोड़कर उसे मजबूती प्रदान करते रहेंगे।

 

नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो मोदीनगर। गांव पैगा में नाले के निर्माण में पीली ईट व घटिया सामग्री का हों रहा है प्रयोग। बरसात सिर पर है। लगता है ये नाला एक बरसात भी झेल पायेगा या नहीं।इस नाला निर्माण में पीली इंट व घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है। गांव में बड़ा रोष है। इस नाले में कई सौ घरों का गन्दा पानी जायेगा मगर इस नाले में पीली इंट व घटिया सामग्री लगने से यह एक भी बरसात के पानी को नहीं झेल पायेगा।इसकी सिकायत मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय व जे ई सोमलता को भी फोन द्वारा अवगत करा दिया गया है। उन्होंने कहा कि मैं कोराना हो रहा है मगर उन्होंने कहा कि अभी हम जांच कराकर काम को रुकवाने का काम करेंगे।