Home Bihar जमुई में अपराधियों ने घर में घुसकर इंजीनियरिंग छात्र को मारी गोली,मौत।

जमुई में अपराधियों ने घर में घुसकर इंजीनियरिंग छात्र को मारी गोली,मौत।

0
मृतक के परिजन

25 की संख्या में हथियारबंद अपराधियों ने दिया घटना को अंजाम।
परिजनों ने लगाया पुलिस पर लेटलतीफी करने का आरोप।
-अशोक कुमार चंद्रवंशी-
नेशनलएक्सप्रेसब्यूरो,जमुई:जिले के खैरा थाना क्षेत्र के नक्सल प्रभावित अरुणमाबांक गांव में देर रात अपराधियों ने एक बार फिर तांडव किया है।इस दौरान अपराधियों ने घर में सो रहे एक इंजीनियरिंग छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के बाद सभी अपराधी आराम से मौके से फरार होने में कामयाब रहे।मृतक छात्र की पहचान अरुणमाबांक गांव निवासी मुद्रिका यादव के 22 वर्षीय पुत्र अंकित कुमार के रूप में किया गया है।मिली जानकारी के अनुसार अंकित अपने घर की छत पर था,इसी दौरान दो अलग-अलग चारपहिया वाहन पर सवार होकर 20 से 25 के संख्या में हथियारबंद अपराधियों ने उसके घर पर धावा बोल दिया।इस दौरान अपराधियों ने पहले अंकित को एक गोली मारी उसके बाद घर में घुसकर उसे गोलियों से भून दिया।इस घटना में मौके पर ही इंजीनियरिंग छात्र की मौत हो गई।हालांकि हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। परंतु परिजनों ने बताया कि बीते 4 वर्ष पूर्व मुद्रिका यादव ने गांव में ही मुखिया का चुनाव लड़ा था।जिसके बाद से ही तनाव चलता आ रहा है।इसी तनाव के कारण अंकित की हत्या की गई है। घटना की सूचना पाकर खैरा पुलिस मौके पर पहुंचकर छानबीन कर रही है।पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण हेतु सदर अस्पताल भेज दिया हैं।परिजनों ने लगाया पुलिस पर लेटलतीफी बरतने का आरोप :- इस दौरान मृतक अंकित के परिजनों ने खैरा पुलिस पर लेटलतीफी बरतने का आरोप लगाकर थानाध्यक्ष के तबादले और उन पर कार्रवाई की भी मांग कर रहे थे।परिजनों ने बताया कि घटना के बाद लगातार 1 घंटे तक हम खैरा थानाध्यक्ष को फोन करते रहे,लेकिन पुलिस ने मामले में कार्रवाई करना तो दूर घटनास्थल पर आने की भी जहमत नहीं उठाई।बाद में हम ने इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक को दी।जिसके बाद पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर खैरा थाना से पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे।उन्होंने बताया कि अगर पुलिस इस मामले में तत्पर होती तो घटना को अंजाम देकर फरार होने वाले अपराधियों को पहले ही पकड़ लिया जाता।उन्होंने थानाध्यक्ष पर कार्रवाई करने की मांग की है।