Home Bihar न्याय-अन्याय के बीच महासंग्राम 28 तारीख को मतदान है!जमुई-चकाई के प्रवुद्ध नागरिक...

न्याय-अन्याय के बीच महासंग्राम 28 तारीख को मतदान है!जमुई-चकाई के प्रवुद्ध नागरिक माता-बहनें युवा किसान मजदूर व्यवसायी बन्धुओं से अपील है शांति विकास और भाईचारा को मतदान करें!

0

पहले यह तय करो कि वफादार कौन है?
फिर वक्त ही बताएगा गद्दार कौन है?
-राजेश कुमार सिंह-
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो,बिहार:74आंदोलन अग्रणीय योद्धा जमुई के घर-आंगन के नेता एवं बिहार के जनप्रिय नेता पूर्व मंत्री नरेन्द्र सिंह को कमजोर करने की गहरी साजिश रची गई उसी कड़ी में है जमुई में भाजपा को मजबूत करने वाले जमुई के लोकप्रिय युवा नेता एवं जमुई के पूर्व विधायक अजय प्रताप का टिकट काटा गया और इसी तर्ज पर जद(यू)को चकाई के साथ-साथ जिला स्तर पर मजबूत करने वाले युवानेता एवं चकाई के पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह के टिकट काटे गये!दोनो युवा नेता के टिकट इसलिए काटे गये कि अजय प्रताप और सुमित कुमार सिंह कद्दावर राजनेता नरेन्द्र सिंह के बेटे हैं?श्री नरेन्द्र सिंह की लोकप्रियता से ईर्ष्या रखने वालों ने छल प्रपंच और धोखा किया इसका न्याय जमुई एवं चकाई की महान जनता के हाथ है!उस नरेन्द्र सिंह के विरूद्घ साजिश की गई जिस नरेन्द्र सिंह ने वर्ष 2000 में नीतीश कुमार को 22 विधायकों का समर्थन देकर मुख्यमंत्री बनाया,आगे बढ़ाया तब नरेन्द्र सिंह अच्छे थे!आश्चर्य है नीतीश जी के खास सिपहकारों के आगे नीतीश जी की नहीं चली?आखिर उन्हे भी कुकर्म करना पड़ा कि-74 आंदोलन के अग्रणीय योद्धा जमुई के घर-आंगन के नेता और बिहार के जनप्रिय नेता पूर्व मंत्री नरेन्द्र सिंह को कमजोर करने की गहरी साजिश रची गई इसी कड़ी में जमुई में भाजपा को जिला स्तर पर मजबूत करने वाले जमुई के लोकप्रिय युवा नेता एवं पूर्व विधायक अजय प्रताप का टिकट काटा गया ठीक इसी तर्ज पर चकाई सहित जिले में जद(यू) को मजबूत करने वाले लोकप्रिय युवा नेता पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह की बढ़ती लोकप्रियता को कम करने के लिए टिकट काटा गया?इसका न्याय जमुई एवं चकाई के महान जनता एवं मतदाताओं के हाथ है जिसका जबाब 28 तारीख को मतदान से देंगे! आपके उस नरेन्द्र को कमजोर करना चाहता है जिसने जमुई को चिरप्रतीक्षित जिला का दर्जा दिलाकर जिलावासियों को सम्मान दिलाया!जिले में स्वास्थ्य के लिए जिला अस्पताल मेडिकल कालेज स्टेडियम कृषि विज्ञान केन्द्र दुग्ध शीतलन केन्द्र सड़कें पूल-पुलिये का निर्माण,सिंचाई़ और तकनीकी शिक्षा के लिए जिले में विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों की स्थापना करायी गयी जमुई को छिन्न-भिन्न होने से बचाया गया,सवके सुख-दुख में साथ देकर समाजिक समरसता और भाईचारा कायम रखते हुए जमुई को सींचा गया 2003 में संघर्ष करके जमुई के स्वाभिमान की रक्षा की गई!इतिहास के पन्ने कभी अमिट नहीं होते?
वर्ष 1969 में सोशलिस्ट पार्टी द्वारा श्री रामविलास पासवान जी के टिकट काटे जाने पर महान समाजवादी नेता श्रीकृष्ण सिंह जी आहत महसूस किये थे।तव श्रीकृष्ण बाबू पार्टी के जेनरल सेक्रेटरी थे!श्रीकृष्ण बाबू जेनरल सेक्रेटरी के अधिकार का प्रयोग करते हुए रामविलास पासवान जी को घर से बुलाकल अलौली का टिकट अपने हाथों दिया था?मानवता के इस मिशाल के आगे चिराग पासवान की सोच पर हंसी आती है जिन्हें राजनीतिक घटनाक्रमों का बोध नहीं है!जिस महापुरूष ने रामविलास पासवान को राजनीतिक संजीवनी दी थी उसी महापुरूष के पौत्रों:-जमुई से अजय प्रताप के खिलाफ़ पुच्छलतारा और चकाई से सुमित कुमार सिंह के विरूद्ध उल्कातारा उतारकर चिराग जी ने जमुई जिले की सुचिता पूर्ण राजनैतिक संस्कृति को चुनौती दी है शायद उन्हे सावन-भादो का ज्ञान नहीं है?आज जमुई के घर आंगन के नेता जिले के अभिभावक आदरणीय नरेन्द्र सिंह बीमार हैं पटना के हृदय रोग अस्पताल में भर्ती हैं डाक्टरों ने उन्हें कोरेंन्टाइन में रखा है!ऐसी परिस्थिति में जमुई एवं चकाई का चुनाव अब नरेन्द्र बाबू को मानने वाले शुभचिंतकों समर्थकों के हाथ है।चुंकि जमुई की समाजिक एकता,शांति भाईचारा विकास और विश्वास की संस्कृति को बिगाड़ने की व्यूह रचने वाले साजिश कर्ताओं को 28 तारीख को होने वाले मतदान में दोनो क्षेत्र के महान मतदाता जमुई में सुख-दुख के साथी,रालोसपा के लोकप्रिय प्रत्याशी अजय प्रताप जी के चुनाव चिन्ह पंखा छाप पर वटन दवाकर एवं चकाई में पहाड़-पर्वत पार कर उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र में सवके सुख-दुख में फौरन पहुंचने वाले चकाई के युवा नेता पूर्व विधायक लोकप्रिय प्रत्याशी श्री सुमित कुमार सिंह के चुनाव चिन्ह सेव छाप पर वटन दवाकर भारी मतों से विजयी बनाकर देंगे!
241जमुई एवं 243 चकाई के समस्त सम्मानीय मतदाताओं प्रवुद्ध नागरिकों,माता-बहनों, युवाओं,किसान-मजदूरों एवं व्यवसायियों को दशहरा के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं!