Home Bihar मतगणना के लिए सारी सुरक्षा तैयारी पूरी,उपद्रवियों पर होगी कड़ी कार्रवाई-एसपी,किशनगंज

मतगणना के लिए सारी सुरक्षा तैयारी पूरी,उपद्रवियों पर होगी कड़ी कार्रवाई-एसपी,किशनगंज

0
चुनाव पश्चात मतगणना के लिए फोर्स और मैजिस्ट्रेट की २० स्थानों पर विशेष प्रतिनियुक्ति,चारों विधानसभा क्षेत्र के थानों में क्यूआरटी का गठन,व्यापक रूप से सुरक्षा के इंतेजाम,आम जनों से सहयोग की अपील,
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो,
किशनगंज: चुनाव प्रचार के दौरान विभिन्न पार्टी के नेताओं द्वारा अपने भाषण में दूसरे दलों के विरुद्ध कभी-कभी अमर्यादित भाषा का प्रयोग किये जाने के कारण उनके समर्थकों में काफी नाराजगी हो जाती है तथा मतगणना के पश्चात विजयी उम्मीदवारों के समर्थकों द्वारा विपक्ष के प्रति कटाक्ष एवं उग्र नारा लगाये जाने से शांति-व्यवस्था भंग होने से इंकार नहीं किया जा सकता।चुनाव पश्चात सभी राजनीतिक दलों के समर्थकों द्वारा अपनी पार्टी की हार-जीत को लेकर चौक-चौराहों पर चर्चा के दौरान मार-पीट होने की संभावना बनी रहती है।
मतगणना के पश्चात यह जानकारी होने पर की किस व्यक्ति/दल को बूथवार अधिकांश/न्यून मत प्राप्त हुए हैं का पता चलने पर स्थानीय तौर पर चुनावी रंजिश एवं हिंसा की संभावना बढ़ जाती है।
उपरोक्त स्थिति से प्रभावकारी तरीके से निपटने हेतु निम्नांकित उपाय किए गए है:-
◆ जिला के प्रमुख चिन्हित किये गए २० चौक-चौराहों/संवेदनशील स्थानों पर दंडाधिकारी एवं बलों की प्रतिनियुक्ति कर दी गयी है।
◆ चुनाव परिणाम घोषित होने के पूर्व अथवा पश्चात यदि किसी व्यक्ति/व्यक्तियों द्वारा शांति भंग होने की संभावना हो तो उन्हें चिन्हित कर उनके विरुद्ध निरोधात्मक (धारा-107/116 दं. प्र. सं. के अंतर्गत) कार्रवाई सुनिश्चित की जा रही है.
◆ मतगणना केंद्र के बाहर धारा-144 भा.द.वि. लागूकर ध्वनि विस्तारक से इसकी सूचना जनसाधारण को दी जाय। मतगणना केंद्र (strong room) की सुरक्षा की समीक्षा कर ली जाय।
◆ मतगणना केंद्र के अंदर ध्वनि विस्तारक, CCTV इस ढंग से लगाया जाना चाहिए ताकि प्रत्येक चरण का मतपरिणाम केंद्र के बाहर खड़े समर्थकों को स्पष्ट सुनाई/दिखाई दे सके।
◆ मतगणना केंद्र के अंदर बिना प्रवेश पत्र के किसी को भी प्रवेश नहीं करने दिया जाय।
◆ चुनाव आयोग द्वारा आदर्श आचार संहिता लागू रहने के कारण विजय जुलूस निकाले जाने से संबंधित चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों का अनुपालन श्रेयस्कर होगा।
◆ यदि किसी परिस्थिति में विजयी उम्मीदवार के साथ उनके समर्थक जुलूस के शक्ल में मतगणना केंद्र से निकलते हैं तो उसकी वीडियोग्राफी करायी जाएगी। साथ-ही-साथ बल एवं दंडाधिकारी के साथ स्कोर्ट की व्यवस्था पूर्व से ही कर ली गयी है।
◆ सभी पुलिस उपाधीक्षक, विशेष शाखा एवं जिला विशेष पदाधिकारी,विशेष शाखा,मतगणना के दिन मतगणना स्थल पर निगरानी रखेंगे तथा अपने अधीनस्थ कर्मियों की प्रतिनियुक्ति क्षेत्र अंतर्गत करते हुए यह निर्देशित करेंगे कि मतगणना एवं विधि-व्यवस्था से संबंधित प्राप्त सूचना/आसूचना का आकलन करते हुए जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को सूचित करेंगे। साथ-साथ विशेष शाखा मुख्यालय को भी अवगत कराना सुनिश्चित करेंगे।

 

चारों विधानसभा क्षेत्रों में अलग अलग क्यूआरटी का गठन किया गया है. इसके अलावा,सभी थानाध्यक्ष और अंचल निरीक्षक अपने अपने क्षेत्रों में सदल बल मौजूद रहेंगे,किसी भी आपातस्थिति में समुचित क़ानूनी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.
“आम जनों से सहयोग की अपील है,चुनाव परिणाम कुछ भी हों,कोई जीते कोई हारे, हमें अपनी तहज़ीब और गंगा-जमनी विरासत नहीं भूलनी है! पूरे मुल्क की निगाहें हम पर लगी हुई हैं.. अतः पूरी सादगी और शांति से हमें चुनाव परिणाम को स्वीकार करना चाहिए और आपसी सद्भाव और खुलूस को बरकरार रखना चाहिए.” — एसपी किशनगंज