Home International बीजिंग में दो दशक बाद दिखे लुप्तप्राय तेंदुए

बीजिंग में दो दशक बाद दिखे लुप्तप्राय तेंदुए

0

बीजिंग, 23 सितंबर (भाषा) विलुप्त होने की कगार पर पहुंचे ‘नॉर्थ चाइना’ उप प्रजाति के तेंदुओं को बीजिंग के निकट उनके पारंपरिक पर्वतीय वास में करीब दो दशक फिर से बाद देखा गया है। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट में बताया गया है कि क्षेत्र के पर्यावरण में सुधार के बाद दुर्लभ उप प्रजाति के तेंदुओं की संख्या बढ़ी है। इन्हें चीनी तेंदुए ने नाम से भी जाना जाता है। चीन में इन्हें राष्ट्रीय प्रथम श्रेणी के संरक्षित जीव के रूप में वर्गीकृत किया गया है। पहले ये तेंदुए हेबेई और शांक्सी तथा उत्तर चीन के हिस्से में बड़ी संख्या में पाए जाते थे। लेकिन 20वीं शताब्दी के अंत में जंगलों की कटाई और इनके अवैध शिकार की वजह से इनकी संख्या तेजी से घटती गई। वर्ष 2008 तक इनकी संख्या घटकर 500 से भी कम हो गई और इनका आवास क्षेत्र 80 फीसदी तक घट गया। रिपोर्ट में बताया गया कि 2012 के बाद से विलुप्तप्राय तेंदुए लगातार हेबेई प्रांत-शिआवोवुटाई पर्वतीय और तुओलियांग क्षेत्र में देखे गए और इसके पीछे की वजह इस क्षेत्र के संरक्षण प्रयासों को दिया जाता है। चीन में वन्यजीवों की रक्षा से जुड़े गैर लाभकारी संगठन चीनी फील्ड कंजर्वेशन अलायंस (सीएफसीए) के पूर्व अध्यक्ष सोंग दजाहो ने शिन्हुआ को बताया कि 20 साल पहले तेंदुए, बीजिंग के निकट के पर्वतीय क्षेत्र से लापता हो गए थे। अब वे वापस लौटे हैं और यह अच्छी खबर है।