Home Bihar झारखंड के राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत अन्य नेताओं ने बापू एवं शास्त्री को...

झारखंड के राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत अन्य नेताओं ने बापू एवं शास्त्री को दी श्रद्धांजलि

0
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो,बिहार:                                                                                                         रांची, दो अक्टूबर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 151वीं जयन्ती पर शुक्रवार को झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा एवं पूर्व मुख्यमंत्री तथा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने यहां मोरहाबादी स्थित बापू वाटिका में गांधी प्रतिमा पर श्रद्धा-सुमन अर्पित करते हुए कहा कि गांधी जी सत्य, न्याय व अहिंसा के लिए जाने जाते थे। वह नारी शिक्षा के पक्षधर थे।

मुर्मू ने कहा, ‘‘आज हमें खुद से पूछना चाहिए कि क्या हम बापू के बताये मार्ग का अनुसरण कर रहे हैं? क्योंकि वर्तमान में जिस तरह की खबरें आ रहीं हैं, उससे मुझे प्रतीत होता है कि लोगों में मानसिक परिवर्तन की आवश्यकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अब समय आ गया है परिवर्तन का। बापू के बताये मार्ग को आत्मसात कर बदलाव लाया जा सकता है।’’ राज्यपाल ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री को भी उनकी 116वीं जयन्ती पर श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वह देश के सच्चे सपूत थे और उनके जैसे नेतृत्व वाले क्षमतावान राजनेता देश में बिरले ही पैदा होते हैं।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि आज राष्ट्र की दो महान विभूतियों राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री की जयंती है। उन्होंने कहा, ‘‘ये विभूतियां देश निर्माण के शुरुआती दशक की योद्धा रही हैं। वर्तमान व आनेवाले समय में भी इनके जैसे व्यक्तित्व का मिल पाना नामुमकिन है।’’

सोरेन ने कहा कि आज के दौर में कहीं न कहीं उनकी कमी खलती है। मौजूदा वक्त में व्यक्तिगत और राजनीतिक रूप से बदलाव देखने को मिल रहा है, कुछ पीड़ादायक हैं तो कुछ खुशी की अनुभूति कराते हैं।
सोरेन ने कहा कि ऐसी महान विभूतियों के नहीं होने से व्यवस्थाओं में उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है, इन महान विभूतियों के विचार कभी मर नहीं सकते। हमें अपने व्यक्तिगत और सामूहिक आचरण में इनके विचारों को अर्जित करना है। यही आचरण समाज, राज्य और राष्ट्र के लिए श्रेयस्कर होगा।’’ केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने यहां बापू को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, ‘‘राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को शत शत नमन।’’ पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि देते हुए मुंडा ने कहा, ‘‘ईमानदारी के प्रतीक भारत के पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्न लाल बहादुर शास्त्री को शत-शत नमन।’’ मुंडा ने कहा कि देश इन दोनों महान विभूतियों से सदा शिक्षा ग्रहण करता रहेगा।

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तथा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुबर दास ने भी गांधी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर बापू को याद किया।  इस अवसर पर दास ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में बापू के स्वच्छ भारत का सपना जन आंदोलन बन चुका है। इसी प्रकार स्वदेशी को बढ़ावा देने के लिए आत्मनिर्भर भारत का सपना भी मूर्त रूप ले रहा है।’’ उन्होंने कहा कि गांधी जैसे महापुरुष सदियों में एक बार जन्म लेते हैं।

दास ने पूर्व प्रधानमंत्री शास्त्री को भी श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वह बहुत विनम्र स्वभाव के थे लेकिन देश के लिए अपने विचारों पर वह चट्टान की तरह दृढ़ रहते थे। उन्होंने कहा कि शास्त्री जी ने साठ के दशक में जिस तरह ‘जय जवान’, जय किसान’ का नारा बुलंद किया उससे पूरी दुनिया आश्चर्य में थी और देश की जनता में उत्साह और ऊर्जा चरम पर पहुंच गये थे।