Home Bihar भाजपा-जदयू के साथ होने से भागलपुर जिले का राजनीतिक समीकरण बदलने की...

भाजपा-जदयू के साथ होने से भागलपुर जिले का राजनीतिक समीकरण बदलने की उम्मीद,2015 में सातों सीट पर महागठबंधन को मिली थी जीत।

0
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो,
भागलपुर: विगत विधानसभा चुनाव में जदयू-राजद महागठबंधन ने जिले की सातों विधानसभा सीटों पर एक साथ कब्जा कर राजग गठबंधन का सूपड़ा साफ कर दिया था। लेकिन इस बार भाजपा-जदयू के साथ होने से भागलपुर जिले का राजनीतिक समीकरण बदलने की उम्मीद दिख रही है।वैसे भागलपुर की हमेशा से ही राज्य की राजनीति में अहमियत रही है।यहां से कांग्रेस व भाजपा के कई दिग्गज चुनाव जीते और सूबे के मुख्यमंत्री भी बने।यही कारण है कि सभी राजनीतिक दलों के शीर्ष नेतृत्व की नजर भागलपुर पर रहती है।इस बार भी यहां एनडीए और महागठबंधन के बीच प्रतिष्ठा का चुनाव होने जा रहा है,जिसमें दोनों दलों के बड़े नेताओं की साख की परीक्षा भी होने वाली है। लेकिन लोजपा के रुख का असर भी भागलपुर के कुछ विधानसभा पर पड़ता दिख रहा है।जदयू-भाजपा के समीकरण का असर इस विधानसभा चुनाव पर पड़ेगा। इस समीकरण से कई राजनीतिक धुरंधरों के ख्वाब पर पानी फिर जाएंगे तो कई की स्थिति मजबूत होगी। भागलपुर की विधानसभा सीटों पर अभी राजद,कांग्रेस और जदयू का कब्जा है। सात विधानसभा में तीन पर जदयू,दो पर कांग्रेस और दो विधानसभा सीटों पर राजद का कब्जा है।पहले जब जदयू-भाजपा गठबंधन की सरकार थी तो जिले की छह विधानसभा सीटों पर भाजपा-जदयू का कब्जा था। कहलगांव सीट पर कांग्रेस ने कब्जा जमाया था।एक बार वही स्थिति फिर से आ गई है।पहले जो सीट भाजपा के पास थी,वह सीट अभी दूसरी पार्टी के पास चली गई है।कांग्रेस ने इस सीट को लगातार तीसरी बार जीतने के लिए मजबूत रणनीति तैयार कर ली है।वहीं, भाजपा भी अपनी पुरानी सीट पर फूल खिलाने को कोई कसर नहीं छोडऩा चाहती है।पिछली बार भितरघात की शिकार हुई भाजपा के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह तक हस्तक्षेप करने के लिए भागलपुर आना पड़ा। हालांकि, इस जिले में चुनाव अंत में जाकर जातीय व सामाजिक समीकरण पर ही टिक जाता है। लिहाजा, आने वाले चुनाव को लेकर भी जातीय समीकरण को साधने की कोशिश दोनों पक्षों ने शुरू कर दी है।
2015 विधानसभा चुनाव के परिणाम
पीरपैंती
जीते : राम बिलास पासवान (राजद) : 80058
दूसरे स्थान पर : ललन कुमार पासवान (भाजपा) : 74914
नाथनगर
जीते : अजय कुमार मंडल (जदयू) 66485
दूसरे स्थान पर : अमर सिंह कुशवाहा (लोजपा) 58660
कहलगांव
जीते : सदानंद सिंह (कांग्रेस) 64981
दूसरे स्थान पर : नीरज कुमार मंडल (लोजपा) 43752
भागलपुर
जीते : अजीत शर्मा (कांग्रेस) 70514
दूसरे स्थान पर : अर्जित शाश्वत चौबे (भाजपा) 59856
गोपालपुर
जीते : नरेंद्र कुमार नीरज (जदयू) 57403
दूसरे स्थान पर : अनिल कुमार यादव (भाजपा) 52234
बिहपुर
जीतीं : वर्षा रानी (राजद) 68963
दूसरे स्थान पर : कुमार शैलेंद्र (भाजपा) 56247
सुल्तानगंज
जीते : सुबोध राय (जदयू) 63345
दूसरे स्थान पर : हिमांशु प्रसाद (बीएलएसपी) 49312