Home National निरीक्षण उच्चाधिकारी आए चले गए, पीड़ितों की नहीं सुनी

निरीक्षण उच्चाधिकारी आए चले गए, पीड़ितों की नहीं सुनी

0

नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो । मुरादनगर पुलिस अधिकारी काहे का कर रहे हैं निरीक्षण पीड़िता की फरियाद अधिकारियों ने सुनना गंवारा नहीं किया पीड़िता को बाद में आने के लिए कहकर थाने से चलता कर दिया मुरादनगर थाने का पुलिस विभाग के आला अधिकारियों द्वारा निरीक्षण का कार्यक्रम पुलिस ने ही मीडिया पर जारी किया उच्चाधिकारियों के आने की जानकारी मिलने पर थाने पहुंचे फरियादियों को भी स्थानीय पुलिस ने नहीं मिलने दिया अधिकारियों ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया कि एक महिला उनकी ओर क्यों आ रही थी और उसे अपनी बात कहने का मौका क्यों नहीं दिया गया अधिकारियों से जानकारी चाही गई तो पुलिस क्षेत्राधिकारी धर्मेंद्र सिंह आगे आ गए उन्होंने कहा कि निरीक्षण का क्या नतीजा है उसके बारे में बाद में बताया जाएगा लेकिन उन्होंने भी पीड़िता की शिकायत नहीं सुनी एक महिला कई दिनों से अपनी पीड़ा लेकर थाने में आ रही थी लेकिन स्थानीय पुलिस ने कार्यवाही तो दूर उसकी शिकायत तक दर्ज नहीं की उसे पता चला कि पुलिस के बड़े अधिकारी मुरादनगर आ रहे हैं वह अपनी पीड़ा लेकर थाने पहुंच गई लेकिन अधिकारियों के पास तक उसे नहीं जाने दिया गया कई दिनों से थाने के निरीक्षण के लिए तैयारी की जा रही थी। लेकिन अधिकारियों के लिए बिछाए गए कालीन उनके पहुंचने तक गंदे थे सफाई कर्मी अधिकारियों के निरीक्षण के बाद तक झाड़ू लगाते दिखलाई दिए इस बारे में पीड़ित महिला के बारे में भी जानकारी हुई कि वह अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंची थी लेकिन पुलिस ने अधिकारियों से मिलने नहीं दिया महिला ने बताया कि उसका पूर्व पति मारपीट करता था उसे छोड़ तीन बच्चों की मां ने दूसरे का हाथ पकड़ा अब वह भी उत्पीड़न कर रहा है पहली ससुराल उसने छोड़ी दूसरी के परिजन उसे घर में घुसने नहीं दे रहे उसने थाने में लिखित शिकायत देते हुए कहा था कि उसके पहले पति से मतभेदों के बाद 3 बच्चों के भरण पोषण के लिए एक फैक्ट्री में कार्य करने लगी उसी दौरान नगर के एक वार्ड निवासी युवक मुलाकात से हो गई दोनों में आत्मीय संबंध बने युवक ने अपने आप को कुंवारा बताते हुए उसके सामने शादी का प्रस्ताव रखा उसने इनकार किया जिस पर युवक ने जहर खाकर जान देने की कोशिश की उसके बाद उसने उस पर भरोसा करते हुए अपने आप को पत्नी के रूप में समर्पित कर दिया इस दौरान एक पुत्र भी पैदा हो गया पति के परिजनों ने घर में पहले ही नहीं घुसने दिया दूसरा पति एक बच्चे के पिता ने भी उसके साथ मारपीट उत्पीड़न शुरू कर दिया और अब कमरे का किराया बच्चो का खर्च देना भी बंद कर दिया यदि वह उससे घर खर्च के लिए पैसे मांगती है उसके साथ मारपीट करता है जिसके कारण महिला को 4 बच्चों के साथ छोटे से कमरे में अपना समय काट रही है थाने पहुंची पीड़िता ने वीर अर्जुन संवाददाता मुकेश सोनी को बताया कि पुलिस ने उससे कोर्ट मैरिज का सर्टिफिकेट मांगते हुए रिपोर्ट दर्ज करने से मना कर दिया है विश्व सूरज चांद को छू रहा है लेकिन पुलिस अभी भी लकीर की फकीर बनी हुई है जैविक पुत्र होने के बावजूद भी कोर्ट मैरिज सर्टिफिकेट की आवश्यकता को पुलिस ने कार्यवाही ना करने का एक बहाना बना लिया है क्या पुलिस को इतना भी ज्ञान नहीं है कि जैविक संतान विवाह संबंधों की पुष्टि किया जाना अब कठिन नहीं है लेकिन वाह री पुलिस बगैर सर्टिफिकेट के कार्रवाई नहीं करेगी अब पीड़िता ने पुलिस प्रशासन के उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर शिकायत करने की बात बताई है स्थानीय पुलिस पर अधिकारियों का इतना खौफ था कि थाने के आसपास पूरे क्षेत्र को सील कर दिया गया आसपास सड़कों पर खड़े वाहनों को नालों में डालकर सड़क साफ की गई किन अधिकारियों ने निरीक्षण किया फरियादी निराश हुए उसके बारे में किसी से पूछने बताने की आवश्यकता नहीं होती क्योंकि प्रोटोकॉल में हर कुछ दर्ज होता है वीडियो सीसीटीवी लगभग प्रत्येक थाने में हैं आला अधिकारियों को चाहिए कि अधीनस्थों के कार्यों पर भी निगाह रखें और यदि मुराद नगर थाने में सीसीटीवी कैमरे चालू लगे होंगे तो पीड़ित महिला भी थाने की रिकॉर्डिंग में अवश्य ही आएगी संजय सिंह कह गए कि नवाब पुराने हैं मुरादनगर नेता कब किसे अपना खास और दूर बताना चाहते हैं वह आज आप के सांसद संजय सिंह ने मीडिया के सामने ही जाहिर करने की कोशिश की दिल्ली से मेरठ की ओर जा रहे सांसद का यहां थाने के सामने ठीक उस समय वरिष्ठ नेता नवाब सोनी ने जोरदार स्वागत किया कार्यकर्ता अधिक नहीं थे लेकिन मोदीनगर वह मुरादनगर क्षेत्र के कार्यकर्ता उनके स्वागत के लिए यहां एकत्र हुए लोगों को उनका इंतजार भी करना पड़ा नवाब सिंह सोनी के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया जब मीडिया कर्मियों ने सांसद से स्वागत करने वाले कार्यकर्ताओं के साथ फोटो कराने का आग्रह किया तो उन्होंने कहा नवाब के मेरे साथ बहुत पुराने फोटो है वह भेज दूंगा हालांकि वह मीडिया कर्मियों के आग्रह पर रुके और कार्यकर्ताओं के साथ फोटो भी खिंचाई और नवाब सिंह का नाम लेकर इशारा कर गए की इस क्षेत्र में हमारा प्रतिनिधि कौन है।