Home Bihar कियूल-गया रेलखंड पर एक भी पैसेंजर ट्रेन नहीं चलने से लोगों को...

कियूल-गया रेलखंड पर एक भी पैसेंजर ट्रेन नहीं चलने से लोगों को हो रही है परेशानी।

0
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो,
नवादा:कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा मार्च माह के अंतिम सप्ताह से लगाया गया लॉक डाउन के समय गया किऊल रेलखंड पर चलने वाली सभी पैसेंजर एवं एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था।जो अब भी बंद है जिसके कारण हिंदुओं का महापर्व छठ और दीपावली के मौके घर आने वाले परदेसियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।बता दें कि केजी रेलखंड पर लखीसराय, शेखपुरा,नवादा व गया जिला के हजारो पैसेंजर प्रतिदिन यात्रा करते थे।जिससे रेलवे को प्रतिदिन करोड़ो का राजस्व प्राप्त होता था।
परंतु कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सरकार द्वारा लगाया गया लॉक डाउन के दौरान रेलखंड पर सभी एक्सप्रेस और पैसेंजर समेत कुल नौ जोड़ी रेलगाड़ियों का परिचालन बंद कर दिया गया है।जो पिछले आठ महीना से भी पूर्णता बंद है।रेलखंड पर सिर्फ मालगाड़ी और रेल कर्मियों की आवाजाही के लिए एकमात्र स्पेशल ट्रेन की संचालित हो रही है।
संक्रमण फैलने से रोकने को लेकर सरकार द्वारा उठाए गए कदम से क्षेत्रवासी खुश थे। जिस कारण दिक्कत होने के बाद भी कभी किसी प्रकार की आवाज क्षेत्र वसियों द्वारा नहीं उठाई गई।लेकिन अब जब संपन्न हो चुके बिहार विधान सभा चुनाव के दौरान नेता जी का भाषण सुनने के लिए हजारों लाखों की संख्या में आम लोग एक स्थान पर एकत्रित होकर भाषण सुन चुके हैं।ऐसी स्थिति में रेलखंड पर संक्रमण फैलाव के नाम पर एक भी पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन नहीं होना क्षेत्रवासियों को चुभ रही है।
मगध क्षेत्र में हिंदुओं का अपार श्रद्धा का महापर्व छठ के मौके पर प्रदेश या कहीं अन्य जगहों से क्षेत्रवासियों की काफी संख्या घर आना जाना होता है।इस स्थिति में केजी रेलखंड पर एक भी पैसेंजर ट्रेन का परिचालन नहीं होने के कारण बाहर से पूजा में घर आने वाले लोगो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
नौ जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों का होता था परिचालन:- नवादा,शेखपुरा,गया तथा लखीसराय जिले के यात्रियों को अपने गंतव्य तक आने जाने के लिए केजी रेलखंड पर कुल नौ जोड़ी एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन लॉक डाउन के पहले तक हो रही थी। जिसके माध्यम से चारों जिला के हजारो लोग यात्रा करते थे।जिसमें मुख्य रुप से गया हावड़ा एक्सप्रेस, भागलपुर नई दिल्ली सप्ताहिक एक्सप्रेस ट्रेन,गया जमालपुर एक्सप्रेस, रामपुरहाट गया पैसेंजर आदि नौ जोड़ी रेलगाड़ियों का परिचालन रेलखंड के रास्ते होती थी।खासकर गया हावड़ा एक्सप्रेस और जमालपुर गया सुपर फास्ट पैसेंजर ट्रेन की उपयोगिता नवादा,शेखपुरा जिला वासियों के लिए काफी अहम थी।
छठ के मौके पर कुछ ट्रेनों का परिचालन शुरू करने की मांग:- लॉक डाउन के दौरान घर नहीं आ सके वैसे परदेसी जो अभी भी दूसरे राज्य में रह रहे हैं।छठ और दीपावली के मौके पर घर आना चाहते हैं। लेकिन ट्रेनों का परिचालन नहीं होने के कारण महापर्व छठ के मौके पर भी घर आना मुश्किल हो रहा है।इसे देखते हुए क्षेत्र वासियों द्वारा एक या दो जोड़ी ट्रेनों का भी परिचालन केजी रेलखंड के रास्ते शुरू करने की मांग की गई है।इस बाबत मुखिया राजकुमार सिंह,व्यवसायी पवन बंका,डॉक्टर शंभू शरण,प्रदीप कुमार,मोहम्मद इम्तियाज अंसारी आदि बताते हैं की छठ और दीपावली को देखते हुए सरकार को कुछ ट्रेनों का परिचालन इस रेलखंड के रास्ते करवानी चाहिए थी।