Home Delhi इस देश में सरकार का क्वारनटीन प्रोग्राम ही बना ‘भयानक आपदा’, 700...

इस देश में सरकार का क्वारनटीन प्रोग्राम ही बना ‘भयानक आपदा’, 700 की गई जान!

0

कोरोना को काबू करने को लेकर दुनिया में कुछ देशों की तारीफ हो रही है, वहीं नाकामी के लिए कुछ देशों की आलोचना हो रही है. लेकिन ऑस्ट्रेलिया में कोरोना को लेकर बनाया गया एक क्वारनटीन प्रोग्राम भयानक आपदा में बदल गया. इसको लेकर जांच की जा रही है जिसकी सुनवाई के दौरान बताया गया कि यह प्रोग्राम 768 लोगों की मौत के लिए जिम्मेदार है. क्वारनटीन प्रोग्राम में भयानक खामी की वजह से कथित तौर से 18 हजार लोग संक्रमित हो गए.

 

 

 

डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, आरोप है कि होटल में शुरू किए गए क्वारनटीन प्रोग्राम अपने मूल उद्देश्य को पूरा नहीं कर सका. खासतौर से इस तरह की समस्या सामने आईं- 1. प्रोटेक्टिव गियर का सही से उपयोग नहीं किया गया 2. स्टाफ को अच्छी ट्रेनिंग नहीं मिली 3. सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन नहीं किया गया.

 

 

 

 

क्वारटीन प्रोग्राम के कथित तौर से आपदा में बदलने को लेकर ऑस्ट्रेलिया में विपक्षी नेता माइकल ओ ब्रायन ने मांग की है कि विक्टोरिया के प्रीमियर डेनियल माइकल एन्ड्रूज इस्तीफा दें. कहा जा रहा है कि होटल क्वारनटीन प्रोग्राम की वजह से ही मेलबर्न में कोरोना की दूसरी लहर फैली.

 

 

 

 

विपक्षी नेता माइकल ओ ब्रायन ने कहा है कि विक्टोरिया के पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन के इतिहास की यह सबसे बड़ी गलती है. उन्होंने कहा कि मौत और अन्य क्षति का अगर कुछ मतलब है तो जिम्मेदार लोगों को निश्चित तौर से इस्तीफा दे देना चाहिए. वहीं, जांच कमेटी के सामने पेश हुए वकील बेन इहले ने कहा कि सरकार ने सिस्टम जल्दबाजी में तैयार किया और मॉनिटर करने में नाकाम रही.

 

 

 

 

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री जेन्नी मिकाकोस ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया था. उन्हें क्वारनटीन प्रोग्राम के लिए जिम्मेदार बताया जा रहा था. कहा जाता है कि बदहाल होटल क्वारनटीन प्रोग्राम की वजह से ही मई में ही कोरोना के मामले ऑस्ट्रेलिया में बड़े पैमाने पर फैलने लगे. क्षेत्र के 90 फीसदी मामलों के तार क्वारटीन प्रोग्राम से कथित तौर पर जुड़े मिले.