Home Bihar राहुल का प्रधानमंत्री से सवाल : चीनी सैनिकों को हिन्दुस्तान की जमीन...

राहुल का प्रधानमंत्री से सवाल : चीनी सैनिकों को हिन्दुस्तान की जमीन से कब भगाया जायेगा

0
नेशनल एक्सप्रेस,
नवादा (बिहार), कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ जारी गतिरोध के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शुक्रवार को सवाल किया कि हिन्दुस्तान की जमीन से चीनी सैनिकों को कब भगाया जायेगा। साथ ही कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि किसी चीनी सैनिक के हिन्दुस्तान की जमीन पर मौजूद होने की बात कहकर प्रधानमंत्री ने हमारे सैनिकों का ‘अपमान’ किया है।

राहुल गांधी ने बिहार के नवादा और कहलगांव में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए, हाल ही में बनाए गए कृषि संबंधी तीन कानून, जीएसटी, लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों का पलायन और नोटबंदी सहित विभिन्न मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कटघरे में खड़ा करने का प्रयास किया। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव के साथ नवादा की रैली को संबोधित कर रहे राहुल ने बिहार में बेरोजगारी का मुद्दा भी उठाया।

इस मुद्दे पर केंद्र और बिहार की राजग सरकार को घेरते हुए राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोटबंदी, जीएसटी और कोरोना वायरस संकट के समय लोगों की आर्थिक मदद नहीं कर किसानों, छोटे कारोबारियों, मजदूरों, छोटे उद्यमियों की कमर तोड़ दी है। राहुल गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत में ही लोगों से पूछा, ‘‘ नीतीश जी की सरकार कैसी लगी आप लोगों को? मोदी जी के भाषण कैसे लगे?’’

कांग्रेस नेता ने कहा ‘‘मोदी जी ने कहा है कि बिहार के जो हमारे सैनिक शहीद हुए, उनके सामने वह अपना सिर झुकाते हैं…… पूरा देश बिहार के शहीदों के सामने सिर झुकाता है। ’’ उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने यह नहीं कहा कि वे चीन को भारत की शक्ति दिखाने जा रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि चीन ने हिन्दुस्तान की 1200 वर्ग किलोमीटर जमीन अपने कब्जे में ले रखी है।

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री को घेरने का प्रयास करते हुए आरोप लगाया, ‘‘ चीन की सेना हिंदुस्तान की सीमा के अंदर है। सवाल ये है कि जब चीनी सैनिक हमारी जमीन के अंदर आए, तो हमारे प्रधानमंत्री ने हमारे वीरों का अपमान करते हुए यह क्यों बोला कि हिंदुस्तान के अंदर कोई नहीं आया?’’ कांग्रेस नेता ने लोगों से कहा कि वे (प्रधानमंत्री) आज कहते हैं कि वे सिर झुकाते हैं ‘‘लेकिन तब हिन्दुस्तान की सेना का अपमान नरेन्द्र मोदी जी ने किया, जब उन्होंने देश को झूठ बोला कि चीन का कोई भी सैनिक हिंदुस्तान के अंदर नहीं आया। ’’

उन्होंने सवाल किया, ‘‘ बतायें कि चीन के सैनिकों को हिन्दुस्तान की धरती से कब भगाया जायेगा? सवाल यह है कि हमारे पवित्र देश के भीतर चीन की सेना क्यों? ’’ इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में पहली चुनावी रैली में, गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुए संघर्ष का जिक्र करते हुए कहा था ‘‘भारत का स्वाभिमान है बिहार और बिहार के जवानों ने गलवान घाटी और पुलवामा में बलिदान दिया लेकिन भारत माता का शीश नहीं झुकने दिया…. हम उनको श्रद्धांजलि देते हैं।’’

राहुल ने लोगों से पूछा, ‘‘ नोटबंदी का क्या फायदा हुआ? ’’ उन्होंने आरोप लगाया कि गरीब का पैसा हिन्दुस्तान के अमीरों के खाते में गया और अंबानी और अडानी के लिए नरेंद्र मोदी रास्ता साफ कर रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा ‘‘प्रधानमंत्री ने पिछले चुनाव में कहा था कि दो करोड़ लोगों को नौकरियां देंगे, क्या नौकरियां मिलीं? किसी को नहीं मिली। जीरो।’’

कांग्रेस नेता ने कहा कि नरेंद्र मोदी सैनिकों, किसानों, मजदूरों, छोटे व्यापरियों आदि के सामने सिर झुकाने की बात करते हैं लेकिन काम तो वह अंबानी और अडाणी का करते हैं। उन्होंने लोगों से कहा, ‘‘भाषण आपको देंगे, सिर झुकाएंगे आपके सामने, मगर जब काम करने का समय आएगा, तब फिर काम किसी और का करेंगे।’’

कांग्रेस के शासन का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा ‘‘ हमारी सरकार ने 70 हजार करोड़ रुपये का किसानों का कर्ज माफ किया और जब सरकार बनी तब मध्यप्रदेश, पंजाब, छत्तीसगढ़ में भी कर्ज माफ किया है। ’’
राहुल गांधी ने कहा, ‘‘ हमारी सरकार (संप्रग) थी, 70 हजार करोड़ रुपए का किसानों का कर्जा माफ किया गया था। पंजाब में हमारी सरकार है , पंजाब में किसानों का कर्जा माफ किया गया। मध्यप्रदेश में सरकार बनी, वहां कर्जा माफ किया, छत्तीसगढ़ में कर्जा माफ किया गया।’’

नोटबंदी और जीएसटी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि अंबानी और अडानी के लिए नरेन्द्र मोदी रास्ता साफ कर रहे हैं और किसानों को, मज़दूरों, दूकानदारों को दूर कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि आने वाले समय में आपका पूरा का पूरा धन हिन्दुस्तान के दो-तीन पूंजीपतियों के हाथ में चला जाएगा।

हाल ही में बनाये गए कृषि संबंधी तीन कानूनों का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मंडियां खत्म की जा रही हैं, न्यूनतम समर्थन मूल्य समाप्त किए जा रहे हैं और आने वाले दिनों में आपके खेत भी छीन लिये जायेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे लाखों लोग बेरोजगार होंगे। प्रवासी मजदूरों के पलायन का मसला उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि पलायन कर रहे प्रवासी मजदूरों की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मदद नहीं की और यही सच्चाई है।

कोरोना वायरस संकट पर राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 22 दिनों में कोरोना वायरस महामारी ठीक होने की बात की थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा ‘‘नरेन्द्र मोदी जी ने कहा था कि 22 दिन में कोरोना की लड़ाई जीती जाएगी लेकिन जब बिहार के मज़दूरों को दिल्ली से और बाकी प्रदेशों से भगा कर बिहार भेजा गया…, वे जब भूखे प्यासे पैदल आ रहे थे, तो नरेन्द्र मोदी जी क्या कह रहे थे? ’’

कांग्रेस नेता ने सवाल किया, ‘‘ देश के प्रधानमंत्री ने इन्हें एक दिन भी क्यों नहीं दिया? ’’ उन्होंने लोगों से कहा, ‘‘ अब आपके हाथ में चाबी है। अब नरेन्द्र मोदी और नीतीश जी के हाथ में चाबी नहीं है। निर्णय आप लेंगे।’’ पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा ‘‘ बिहार के लिए, बिहार के विकास की सरकार, बिहार के किसानों की, मज़दूरों की सरकार, अब बिहार में लानी है और राजग को हराना है।’’

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी को टीवी पर 24 घंटे दिखाया जाता है लेकिन उनको और तेजस्वी यादव सहित विपक्ष को नहीं दिखाया जाता है। गौरतलब है कि नवादा के हिसुआ सीट से कांग्रेस उम्मीदवार नीतू सिंह का मुकाबला भाजपा के वर्तमान विधायक अनिल सिंह से है। हिसुआ की रैली में काफी संख्या में लोग आये थे और कुछ लोगों को आसपास के मकानों की छतों पर भी बैठे देखा गया।