Home Jharkhand उपायुक्त ने तकनीकि पदाधिकारियों के साथ बैठक कर तकनीकि विभागों द्वारा जिला...

उपायुक्त ने तकनीकि पदाधिकारियों के साथ बैठक कर तकनीकि विभागों द्वारा जिला में संचालित कार्यों की समीक्षा की।

0
: उपायुक्त ने सभी अपूर्ण कार्यों को आगामी मार्च तक पूर्ण करने का दिया निर्देश।                            : सभी क्रियान्वित योजनाओं की गुणवत्ता बनाए रखें- उपायुक्त
नेशनल एक्सप्रेस ब्यूरो,
झारखंड: गुमला के उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा ने अपने कार्यालय वेश्म में तकनीकि पदाधिकारियों के साथ बैठक कर तकनीकि विभागों द्वारा जिला में संचालित कार्यों की समीक्षा की।बैठक में मुख्य रूप से उपायुक्त ने भवन निर्माण विभाग,झारखण्ड राज्य भवन निर्माण निगम लिमिटेड,ग्रामीण कार्य प्रमण्डल व जलपथ प्रमण्डल विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
बैठक में उपायुक्त ने ग्रामीण विकास विभाग(ग्रामीण कार्य मामले) कार्य प्रमण्डल के कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में कार्यपालक अभियंता ने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनांतर्गत जिला में सड़क निर्माण हेतु कुल 03 फेज में कार्य किया जा रहा है।जिसके अंतर्गत 14393.82075 लाख रूपये की राशि से 195 सड़क निर्माण का कार्य कराया जा रहा है।जिसमें से 152 योजनाओं को पूर्ण कर लिया गया है।जबकि शेष योजनाओं में कार्य अपूर्ण हैं। इसके अलावा राज्य संपोषित योजना अंतर्गत जिला में सड़क निर्माण हेतु कुल 03 फेज में कार्य किया जा रहा है।जिसके अंतर्गत 1050.93197 लाख रूपये की राशि से 55 सड़क निर्माण का कार्य कराया जा रहा है।जिसमें से 15 योजनाओं में कार्य प्रगति पर है।जबकि शेष योजनाओं को पूर्ण करने की जानकारी दी गई।इसपर उपायुक्त ने अबतक पूरे गुमला जिले में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा निर्मित कुल सड़कों की संख्या का अद्यतन प्रतिवेदन उपायुक्त कार्यालय में यथाशीघ्र उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।साथ ही सभी अपूर्ण कार्यों को ससमय पूर्ण करने का निर्देश दिया।

 

 

बैठक में उपायुक्त ने भवन निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा की।भवन निर्माण विभाग की समीक्षा के क्रम में कार्यपालक अभियंता भवन प्रमण्डल ने बताया कि विभाग द्वारा गुमला जिला में कुल 31 योजनाओं का क्रियान्वयन कराया जा रहा है।जिसमें से 16 योजनाओं को पूर्ण कर लिया गया है। जबकि शेष 15 योजनाओं में कार्य अपूर्ण हैं।इसपर उपायुक्त ने ससमय अपूर्ण योजनाओं को पूरा करने का निर्देश दिया।
झारखण्ड राज्य भवन निर्माण निगम लिमिटेड की समीक्षा के क्रम में बताया गया कि निगम द्वारा जिले में 31 योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है।जिसमें से 04 योजनाओं को पूर्ण कर लिया गया है।जबकि 16 योजनाओं में कार्य अपूर्ण है। वहीं 04 योजना का कार्य अवरूद्ध है। 04 योजना का कार्य रद्द किया गया है। 01 योजना की प्रशासनिक स्वीकृति हेतु भेजा गया है तथा 02 योजनाओं में निविदा की कार्रवाई की जा रही है।इसके साथ ही बताया गया कि घाघरा प्रखंड के डिग्री कॉलेज का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है,परन्तु हस्तांतरण का कार्य अभी बाकी है।इसपर उपायुक्त ने ससमय हस्तांतरण सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।साथ ही सभी अपूर्ण कार्यों को ससमय पूर्ण करने का भी निर्देश दिया।
जलपथ प्रमण्डल गुमला के समीक्षा के क्रम में बताया गया कि जिले में 05 योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है।जिसमें से 02 योजनाओं को पूर्ण कर लिया गया है।जबकि 03 योजनाओं में कार्य अपूर्ण है। माह अक्तूबर 2020 तक कुल 2.806 लाख का राजस्व प्राप्त किया गया है। कुल 05 जलाशय एवं वीयर योजना में नहर की कुल लंबाई 74.689 कि.मी. है। 7314 हेक्टेयर सिंचाई की क्षमता है।वित्तीय वर्ष 2020-21 में 6391.00 हेक्टेयर सिंचाई के लिए प्राप्त लक्ष्य के विरूद्ध कुल 6403.00 हेक्टेयर की उपलब्धि है।वहीं जलपथ प्रमण्डल चैनपुर-1 की समीक्षा के क्रम में कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गया कि जिले में 18 योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है।जिसमें से सभी 18 योजनाओं को पूर्ण कर लिया गया है।इसके साथ ही जलपथ प्रमण्डल चैनपुर-02 की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि जिले में 03 योजनाओ का क्रियान्वयन कराया जा रहा है। जिसमें से सभी 03 य़ोजनाओं को पूर्ण कर लिया गया है।
बैठक में उपायुक्त ने सभी अपूर्ण कार्यों को आगामी मार्च 2021 तक पूर्ण करने तथा क्रियान्वित योजनाओं की गुणवत्ता बनाए रखने का भी निर्देश सभी तकनीकि विभागों के पदाधिकारियों को दिया।इस मौके पर बैठक में उपायुक्त सहित उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ,प्रभारी पदाधिकारी जिला विकास शाखा सुषमा नीलम सोरेंग,कार्यपालक अभियंता ग्रामीण विकास विभाग,कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य प्रमंडल,कार्यपालक अभियंता भवन प्रमण्डल बिहारी लाल मुण्डा, कार्यपालक अभियंता जलपथ प्रमंडल गुमला, कार्यपालक अभियंता जलपथ प्रमंडल चैनपुर-1, सहायक अभियंता भवन प्रमंडल,सोशल मीडिया एवं पब्लिसिटी पदाधिकारी रेचल जोजोवार व अन्य उपस्थित थे।