Home UttarPradesh आज से होगा नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लिए वेबिनार पखवाड़े का...

आज से होगा नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लिए वेबिनार पखवाड़े का आयोजन नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रचार प्रसार को 14 से 18 सितंबर तक वेबिनार का होगा आयोजन

0

नेशनल एक्सप्रेस संवाददाता
अमरोहा।
नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के व्यापक प्रचार प्रसार एवं क्रियान्वयन के लिए ज़िले में 14 सितंबर से विशेष वेबीनार पखवाड़ा आयोजित किया जाएगा। इस पखवाड़े में वेबीनार के माध्यम से नई शिक्षा नीति के विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की जाएगी और सुझाव भी लिए जाएंगे। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के व्यापक प्रचार प्रसार एवं क्रियान्वयन हेतु ज़िले में 14 सितंबर से 18 सितंबर तक विशेष पखवाड़े के तहत वेबीनार आयोजित किए जाएंगे। यह वेबीनार दो सत्रों मे आयोजित किए जाएगें। प्रथम सत्र प्रातः 11 बजे से 12 बजे तक तथा दूसरा सत्र अप्ररान्ह 1 से 2 बजे तक आयोजित होगे। जिला विद्यालय निरीक्षक रामाज्ञा कुमार ने बताया कि वेबीनार के माध्यम से जनपद भर के विद्यालयों के प्रधानाचार्य, अध्यापक और अभिभावक के साथ नई शिक्षा नीति 2020 के बिंदुओं पर चर्चा की जाएगी तथा समस्त अध्यापक अभिभावक छात्रों को इससे मूल्यों से अवगत कराया जाएगा, साथ ही विभिन्न बिंदुओं पर सुझाव भी आमंत्रित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि वैबिनार के माध्यम से अभिभावक, छात्र, अध्यापक एवं प्रधानाचार्य को यह अवगत कराया जाएगा कि वर्तमान 10+2 प्रणाली एवं नई शिक्षा नीति में संचालित होने वाली 5 + 3 + 3 + 4 प्रणाली से छात्रों को क्या-क्या लाभ होंगे। कक्षा 9 से 12 तक समस्त वर्गों को समाप्त किया जाएगा। ऐसे में अध्ययनरत छात्र किसी भी विषय का चयन स्वयं कर सकते हैं और इसी के साथ साथ छात्र व्यवसायिक शिक्षा भी प्राप्त करेंगे। जिससे आवश्यकता पड़ने पर अपना रोजगार भी चला सकते हैं। नई शिक्षा नीति 2020 के प्रचार एवं प्रसार के लिए व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से भी प्रधानाचार्य, अध्यापकों एवं छात्रों को परिचित कराया जा रहा है। नई शिक्षा नीति के वेबिनार को ज़िला विद्यालय निरीक्षक रामाज्ञा कुमार एवं राजकीय इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य खुरशीद हैदर जैदी एवं मास्टर ट्रेनर संबोधित करेंगे। डीआईओएस रामाज्ञा कुमार ने जनपद के सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्यों, शिक्षकों अभिभावकों से अपील करते हुए कहा है कि वह वैबीनार से जुड़कर नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से रूबरू हों।